आंत की सेहत पर नजर रखेगा नया ‘कैप्सूल’

वैज्ञानिकों ने एक विशेष प्रकार का सेंसर कैप्सूल विकसित किया है। इसे भी अन्य गोलियों की तरह निगला जा सकता है। यह आंत में पहुंचने के बाद उसकी सेहत और विभिन्न प्रकार की गैसों पर नजर रख सकता है। इससे पेट और कोलोन संबंधी विकारों की पहचान आसानी से हो सकती है। शोधकर्ताओं के अनुसार, यह कैप्सूल प्रतिरक्षा तंत्र समेत शरीर के दूसरे तंत्रों पर नई रोशनी भी डाल सकता है।

यह नई तकनीक उन हर पांच पीड़ितों में से एक के लिए गेम चेंजर साबित हो सकती है जो आजीवन गैस्ट्रोइंटेस्टनल डिसआर्डर से जूझते रहते हैं। इस इंजेस्टिबल कैप्सूल को ऑस्ट्रेलिया की आरएमआइटी यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने विकसित किया है। यह आंत में हाइड्रोजन, कार्बन डाईआक्साइड और ऑक्सीजन जैसी गैसों का आकलन कर सकता है। यह कैप्सूल मोबाइल फोन पर आंकड़ों को भेज भी सकता है। इस कैप्सूल का पहला मानवीय परीक्षण किया जा चुका है। इसके परिणाम बेहद उत्साहजनक पाए गए हैं।

(साई फीचर्स)



1 Views.

Related News

(शरद खरे) सिवनी में पुलिस की कसावट के लिये पुलिस अधीक्षक तरूण नायक के द्वारा प्रयास किये जा रहे हैं।.
गंभीर अनियमितताओं के बाद भी लगातार बढ़ रहा है ठेके का समय (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। इंदौर मूल की कामथेन.
मामला मोहगाँव-खवासा सड़क निर्माण का (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्रित्व काल की महत्वाकांक्षी स्वर्णिम चर्तुभुज सड़क.
नालियों में उतराती दिखती हैं शराब की खाली बोतलें! (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। विधानसभा मुख्यालय केवलारी के अनेक कार्यालयों में.
धोखे से जीत गये बरघाट सीट : अजय प्रताप (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। भाजपा के आजीवन सदस्यों के सम्मान समारोह.
(महेश रावलानी) सिवनी (साई)। बसंत के आगमन के साथ ही ठण्डी का बिदा होना आरंभ हो गया है। पिछले दिनों.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *