आखिर क्यों फूट रही बार-बार पाईप लाईन!

नवीन जलावर्धन योजना अधूरी, प्यासा रह जाता है शहर

(अखिलेश दुबे)

सिवनी (साई)। लगभग ढाई दशक पुरानी और 2024 तक की आबादी के आंकलन के साथ ही बनायी गयी पुरानी जलावर्धन योजना में सुआखेड़ा (भीमगढ़ बाँध) से श्रीवनी होकर सिवनी आने वाली फीडर पाईप लाईन के बार-बार फटने को लेकर शहर में तरह – तरह की चर्चाओं का बाजार गर्माने लगा है।

नगर पालिका के उच्च पदस्थ सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि आने वाले समय में विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी शासित नगर पालिका परिषद के खिलाफ जनाक्रोश पैदा करने के लिये पालिका के कर्मचारियों के द्वारा ही इस तरह की कवायद की जा रही है कि शहर में जब चाहे तब पानी की किल्लत पैदा हो।

सूत्रों ने कहा कि बार-बार फटने वाली फीडर लाईन के चलते पानी की किल्लत शहर में उत्पन्न हो जाती है। इसके चलते शहर के निवासियों का नजला भाजपा शासित नगर पलिका परिषद पर फट पड़ता है। इसके चलते गली मोहल्लों में भाजपा शासित नगर पालिका के खिलाफ माहौल बनता दिख रहा है।

इसके साथ ही सूत्रों ने कहा कि अब तक का आंकड़ा अगर देखा जाये तो हर माह लगभग चार से पाँच बार कभी पाईप लाईन फटती है तो कभी मोटर जल जाने के कारण जलापूर्ति बाधित हो जाती है। सूत्रों ने कहा कि भाजपा शासित नगर पालिका परिषद के द्वारा नवीन जलावर्धन योजना का अधीक्षण भी उचित तरीके से नहीं कराया जा रहा है जिसके कारण इसका ठीकरा भाजपा संगठन पर फूटता दिख रहा है।

सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि नवीन जलावर्धन योजना का अब तक नब्बे फीसदी काम पूरा हो जाना चाहिये था, किन्तु अभी पचास प्रतिशत ही काम हो पाया है। इसका निर्माण कर रही एजेंसी के द्वारा काम करने के लिये समय बढ़ाने की माँग भी की गयी है।

इसी तरह सूत्रों ने बताया कि नगर पालिका के एक कथित बलशाली लिपिक की दखल पालिका के कमोबेश हर विभाग में है। जलकार्य विभाग का काम भी उनके ही पास है। उक्त कथित बलशाली लिपिक को हटाने के लिये साल भर पहले भाजपा के पार्षद दल के सदस्यों के द्वारा एड़ी चोटी का जोर भी किसी काम नहीं आया। हाल ही में भाजपा के जिला अध्यक्ष राकेश पाल सिंह के द्वारा भी उक्त कथित बलशाली लिपिक को हटाने के निर्देश भी बेअसर ही साबित हुए।



0 Views

Related News

(शरद खरे) शहर में दोपहिया नहीं बल्कि अब चार पहिया वाहन भी जहरीला धुंआ उगलने लगे हैं। बताया जा रहा.
पीडब्ल्यूडी की टैस्टिंग लैब . . . 02 मोबाईल प्रयोगशाला के जरिये हो रहे वारे न्यारे (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)।.
मासूम जान्हवी की मदद के लिये उठे सैकड़ों हाथ पर रजनीश ने किया किनारा! (फैयाज खान) छपारा (साई)। केवलारी विधान.
दो शिक्षकों के खिलाफ हुआ मामला दर्ज (सुभाष बकोड़े) घंसौर (साई)। पुलिस थाना घंसौर अंर्तगत जनपद शिक्षा केंद्र घंसौर के.
खनिज अधिकारी निर्देश दे चुके हैं 07 दिसंबर को! (स्पेशल ब्यूरो) सिवनी (साई)। जिला कलेक्टर गोपाल चंद्र डाड की अध्यक्षता.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। 2017 बीतने को है और 2018 के आने में महज एक पखवाड़े से कुछ अधिक समय.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *