इस साल शादियों के मुहूर्त कम!

ग्रहों के कारण नहीं मिल रहीं शुभ तिथि

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। हर साल देवउठनी (तुलसी विवाह) के बाद ढेरों शादियां होती हैं, लेकिन इस बार साल 2017 में सालों बाद विवाह मुहूर्त के लिये युवाओं को लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। देवउठनी के 25 दिनों बाद तक एक भी शुभ मुहूर्त न होने से शादियां नहीं हो रहीं हैं। 31 अक्टूबर को देवउठनी एकादशी थी और अब शुभ मुहूर्त 23 नवंबर को है।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार ज्योतिषी मान्यता है कि विवाह का कारक ग्रह सूर्य के नीच का होकर तुला राशि में होने पर विवाह संस्कार नहीं करना चाहिये। साथ ही जब शुक्र अस्त हो तो भी विवाह करना उचित नहीं है। चूंकि इन दिनों सूर्य नीच का होकर तुला राशि में विद्यमान है और शुक्र ग्रह भी अस्त है, इसलिये विवाह नहीं किया जा सकता।

इस साल मात्र सात मुहूर्त में ले सकेंगे फेरे : ज्योतिषाचार्यों के अनुसार देवउठनी के लगभग तीन सप्ताह बाद 23 नवंबर से शुभ मुहूर्तों की शुरुआत होगी। इसमें भी नवंबर में मात्र तीन मुहूर्त और दिसंबर में चार मुहूर्त में ही फेरे लिये जा सकेंगे।

जनवरी में एक भी मुहूर्त नहीं : ज्योतिषाचार्यों के अनुसार 11 दिसंबर से सूर्य धनु राशि में प्रवेश कर जायेगा जिसे मल मास कहा जाता है। इस दिन से विवाह मुहूर्त पर रोक लग जायेगी। हर साल 14 जनवरी को मकर संक्राति के पश्चात शुभ मुहूर्त आरंभ होते हैं लेकिन इस बार 03 फरवरी तक सूर्य के मलीन अवस्था में होने से विवाह नहीं होगा।

विवाह के श्रेष्ठ मुहूर्त

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार 23 नवंबर को सुबह और शाम, 28 नवंबर को रात 10.55 से मध्य रात्रि 3.14 तक, 29 नवंबर को सुबह 11.36 से दोपहर 1.15 तक, 03 दिसंबर को सुबह 11.20 से 01 बजे व रात्रि साढ़े 10 से 03 बजे, 04 दिसंबर को सुबह 11.15 से दोपहर 01 बजे और रात्रि साढ़े 10 बजे से 02 बजे, 10 दिसंबर को रात 01 बजे से मध्य रात्रि ढाई बजे, 11 दिसंबर को सुबह से रात तक मुहूर्त हैं।



0 Views

Related News

जिले में ग्राम पंचायतों के कार्यक्रमों में बढ़ रही अश्लीलता! (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। जिले में ग्राम पंचायतों के घोषित.
(शरद खरे) जिला मुख्यालय में सड़कों की चौड़ाई क्या होना चाहिये और सड़कों की चौड़ाई वास्तव में क्या है? इस.
मनमाने तरीके से हो रही टेस्टिंग, नहीं हो रहा नियमों का पालन! (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। लोक निर्माण विभाग में.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। नगर पालिका में चुनी हुई परिषद के कुछ प्रतिनिधियों के द्वारा मुख्य नगर पालिका अधिकारी के.
खराब स्वास्थ्य के बाद भी भूख हड़ताल न तोड़ने पर अड़े भीम जंघेला (ब्यूरो कार्यालय) केवलारी (साई)। विकास खण्ड मुख्यालय.
(खेल ब्यूरो) सिवनी (साई)। भारतीय जनता पार्टी के सक्रय एवं जुझारू कार्यकर्ता तथा पूर्व पार्षद रहे संजय खण्डाईत अब भाजपा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *