उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पा रहे सीएमओ!

सिवनी विकास मंच ने पालिका के घटनाक्रमों पर जतायी चिंता

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। नगर पालिका परिषद में आम जनता की सुनवायी नहीं हो रही है। भारतीय जनता पार्टी शासित नगर पालिका परिषद में जो कुछ चल रहा है उसे देखकर आम जनता बुरी तरह परेशान ही नजर आ रही है। नवागत मुख्य नगर पालिका अधिकारी नवनीत पाण्डेय भी जनता की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पा रहे हैं।

उक्ताशय की बात सिवनी विकास मंच के द्वारा जारी विज्ञप्ति में कही गयी है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि नगर पालिका परिषद के द्वारा सोशल मीडिया व्हाट्सएप और फेसबुक पर प्रचार मात्र किया जा रहा है। जमीनी स्तर पर सब कुछ शून्य ही नजर आ रहा है।

विज्ञप्ति के अनुसार सीएमओ और अध्यक्ष के बीच चल रही अहम की लड़ाई में जनता के बुरे हाल हैं। जो उम्मीदें नवागत सीएमओ के आने के बाद दिखायी पड़ रही थीं, वे अब समाप्त होती दिख रही हैं। नगर पालिका प्रशासन महज ठेले ठिलिया वालों, चाय पान की दुकानों, चायनीज फूड आदि की दुकानों पर ही अपनी शक्ति का प्रदर्शन करता दिखा रहा है।

जारी की गयी विज्ञप्ति में कहा गया है कि नेहरू रोड के दुकानदारों को पिछले दिये गये अल्टीमेटम का क्या हुआ? मॉडल रोड, नवीन जलावर्धन योजना, स्वच्छ पेयजल जैसे जनहित से जुड़े मामलों का क्या हुआ? इस बारे में नगर पालिका का सोशल मीडिया पर प्रचार तंत्र खामोश ही दिख रहा है।

विज्ञप्ति में आगे कहा गया है कि भाजपा शासित नगर पालिका अध्यक्ष और मुख्य नगर पालिका अधिकारी जिस तरह शह और मात की लड़ाई में उलझे हैं उससे यह ही तय होगा कि सीएमओ भी पुराने ढर्रे पर ही चलें। हो सकता है इससे आज़िज आकर सीएमओ भी सिवनी से अपना तबादला करवा लें।

इसी तरह जारी की गयी विज्ञप्ति में सिवनी विकास मंच ने मुख्य नगर पालिका अधिकारी से अपील की है कि वे अपने अहम को त्यागें और सिवनी के विकास और सौंदर्यीकरण के लिये प्रयास करें। सिवनी विकास मंच सिस्टम की लड़ाई लड़ रहा है। इसके लिये अगर भविष्य में जनता को उनका हक दिलाने के लिये कुछ और कदम उठाने पड़े तो मंच के द्वारा अवश्य ही उठाये जायेंगे।



56 Views.

Related News

(शरद खरे) सामान्य शब्दों में नगर के पालक की भूमिका अदा करने वाली संस्था को नगर पालिका कहा जाता है।.
मामला मोहगाँव-खवासा सड़क निर्माण का (संजीव प्रताप सिंह) सिवनी (साई)। अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्रित्व काल की महत्वाकांक्षी स्वर्णिम चर्तुभुज.
अट्ठारह करोड़ के काम को दस करोड़ में कैसे करेगा ठेकेदार! (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। गृह निर्माण मण्डल के द्वारा.
सिविल सर्जन की आँखों का नूर . . . 02 (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। स्वास्थ्य संचालनालय चाहे जो आदेश जारी.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सिवनी के वनस्पति शास्त्र विभाग में एक अनुपम पहल के चलते वनस्पति विज्ञान.
(महेश रावलानी) सिवनी (साई)। जनवरी में शहर में अमूमन धूप गुनगुनी और रात के वक्त सर्दी के तेवर तीखे रहा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *