एचआईवी पीड़ित युवक-युवतियों को जीवनसाथी की तलाश

एचआईवी व एड्स पीड़ित महाराष्ट्र की 120 युवतियां व इंदौर के कुछ युवकों सहित कई लोग अपने लिए योग्य जीवनसाथी तलाश रहे हैं। दरअसल, एचआईवी पीड़ितों के लिए काम करने वाली संस्थाओं के प्रयास से सूरत में 18 दिसंबर को परिचय सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इसके लिए गोवा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और मप्र के करीब 490 लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। गुजरात से ही 300 लोग शामिल हैं। रजिस्ट्रेशन कराने वालों में इंजीनियर, आईटी सेक्टर के एक्सपर्ट, बिजनेसमैन व सरकारी नौकरी में काम करने वाले हैं।

इसमें गोवा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और मप्र सहित श्रीलंका, भूटान व नेपाल के भी एचआईवी पीड़ित शामिल होंगे। इन राज्यों में एचआईवी पीड़ितों के लिए काम करने वाली संस्थाओं ने हर राज्य का एक नेटवर्क ग्रुप बनाया है, जिसके बैनर तले यह आयोजन हो रहा है।

इंदौर में पिछले साल 150 लोग हुए थे शामिल

इंदौर में सितंबर 2016 में एचआईवी पीड़ितों का परिचय सम्मेलन हुआ था। इसमें दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र व छत्तीसगढ़ के करीब 150 लोग शामिल हुए थे। शहर के विश्वास एनजीओ के प्रयास से उसमें से पांच-छह जोड़ों के विवाह हुए थे।

700 लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन

नेटवर्क ऑफ महाराष्ट्र बाय पीपल लिविंग विद एचआईवी के विजय भिंडे ने बताया कि अभी तक हमारे पास 700 लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। इस जानकारी के आधार पर हम 22 से 26 वर्ष के अविवाहित और तलाकशुदा या एकल जीवन जी रहे लोगों की श्रेणी बना रहे हैं।

2016 में शहर में जो सम्मेलन करवाया था, उसमें 150 में से 30-40 महिलाएं थीं। इनमें इंदौर के 20 युवक-युवतियां थे। सूरत में होने वाले सम्मेलन के लिए 4 युवकों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। महाराष्ट्र में एचआईवी पीड़ित विवाह के लिए खुलकर सामने आते हैं, लेकिन मप्र में अब भी पीड़ित संकोच करते हैं। -सोमा शर्मा, प्रोजेक्ट को-ऑर्डिनेटर विश्वास एनजीओ, इंदौर

(साई फीचर्स)



0 Views

Related News

(शरद खरे) शहर में दोपहिया नहीं बल्कि अब चार पहिया वाहन भी जहरीला धुंआ उगलने लगे हैं। बताया जा रहा.
पीडब्ल्यूडी की टैस्टिंग लैब . . . 02 मोबाईल प्रयोगशाला के जरिये हो रहे वारे न्यारे (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)।.
मासूम जान्हवी की मदद के लिये उठे सैकड़ों हाथ पर रजनीश ने किया किनारा! (फैयाज खान) छपारा (साई)। केवलारी विधान.
दो शिक्षकों के खिलाफ हुआ मामला दर्ज (सुभाष बकोड़े) घंसौर (साई)। पुलिस थाना घंसौर अंर्तगत जनपद शिक्षा केंद्र घंसौर के.
खनिज अधिकारी निर्देश दे चुके हैं 07 दिसंबर को! (स्पेशल ब्यूरो) सिवनी (साई)। जिला कलेक्टर गोपाल चंद्र डाड की अध्यक्षता.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। 2017 बीतने को है और 2018 के आने में महज एक पखवाड़े से कुछ अधिक समय.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *