ओडीएफ हो सकता है पॉलीटेक्निक परिसर!

चारदीवारी से पूरी तरह घेरा जा रहा है परिसर को

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। बारापत्थर स्थित शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज जल्द ही खुले में शौच से मुक्त (ओडीएफ) घोषित हो सकता है। इसका कारण यह है कि लगभग 31 एकड़ में फैले पॉलीटेक्निक कॉलेज को चारों ओर से चारदीवारी से घेरा जा रहा है। यहाँ जिन स्थानों पर चारदीवारी टूट गयी या तोड़ी गयी है उन स्थानों को भी बंद किया जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार लगभग 31 एकड़ में फैले पॉलीटेक्निक कॉलेज के मैदान वाले हिस्से में पूर्व में चारदीवारी नहीं थी। नब्बे के दशक में मध्य प्रदेश गृह निर्माण मण्डल के प्रस्ताव पर पॉलीटेक्निक कॉलेज की कुछ भूमि को हाऊसिंग बोर्ड को स्थानांतरित किया गया था। इसके बदले में हाऊसिंग बोर्ड के द्वारा पॉलीटेक्निक कॉलेज में चारदीवारी बना दी गयी थी।

बताया जाता है कि पॉलीटेक्निक कॉलेज द्वारा हाऊसिंग बोर्ड को दी गयी भूमि पर गृह निर्माण मण्डल के द्वारा समता नगर का विस्तार कर वहाँ उच्च, मध्यम आय वर्ग (एचआईजी, एमआईजी) के आवास बनाकर उन्हें बेचा गया था। हाऊसिंग बोर्ड के द्वारा शेल्टर लेस मद में रखी भूमि पर ईडब्लूएस क्वॉर्टर बनाकर उन्हें भी बेच दिया गया था।

इसी तरह बताया जाता है कि जब पॉलीटेक्निक कॉलेज के परिसर में बाऊंड्री वाल तैयार हो गयी थी उसके बाद यहाँ से होकर गुजरने वालों को होने वाली कठिनाई को देखते हुए लोगों के द्वारा स्थान – स्थान पर बाऊंड्री वाल को तोड़ दिया गया था। जब चारदीवारी बनायी गयी थी तब मराही माता वाले हिस्से में दीवार खड़ी नहीं की गयी थी।

बताया जाता है कि हाल ही में पॉलीटेक्निक कॉलेज प्रशासन के द्वारा मराही माता मंदिर के पीछे वाले हिस्से में चार दीवारी बनाने का काम जारी है। इस चार दीवारी के बनने के बाद पॉलीटेक्निक कॉलेज की अन्य चार दीवारी में पंचर (जगह – जगह टूटी दीवार) को भी बंद कर दिया जायेगा।

इसी तरह बताया जाता है कि जल्द ही पॉलीटेक्निक कॉलेज का समूचा हिस्सा चारदीवारी के अंदर ही आ जायेगा। इसके बाद यहाँ आने-जाने वालों को या तो पुराने आरटीओ कार्यालय के मुख्य द्वार या जीएडी कॉलोनी वाले सिरे के पिछले द्वार का उपयोग करना होगा। वर्तमान में लोगों के द्वारा शॉर्ट कट का रास्ता अपनाया जाकर यहाँ से होकर गुजरा जाता है।

बताया जाता है कि शहर में खेल मैदानों की कमी के चलते पॉलीटेक्निक कॉलेज के खेल मैदान का उपयोग क्रिकेट, फुटबाल आदि के मैदान के रूप में किया जाता है। सिवनी में होने वाले बड़े कार्यक्रमों, यहाँ तक कि उड़न खटोले (हेलीकॉप्टर) को उतारने के लिये भी इस मैदान का उपयोग किया जाता है।

इसी तरह बताया जाता है कि वर्तमान में चारों ओर से जगह – जगह टूटी चार दीवारी के कारण सुबह और शाम पॉलीटेक्निक कॉलेज के मैदानी हिस्सों का उपयोग आसपास रहने वाले लोगों के द्वारा लघु एवं दीर्घ शंका के लिये किया जाता है। इतना ही नहीं शाम ढलते ही पॉलीटेक्निक कॉलेज के खेल का मैदान भी मयखाने में तब्दील हो जाता है। माना जा रहा है कि अगर यहाँ चारों ओर चारदीवारी खींच दी जाती है तो लगभग 31 एकड़ में फैला यह कॉलेज परिसर खुले में शौच से मुक्त हो सकता है।



34 Views.

Related News

(शरद खरे) सामान्य शब्दों में नगर के पालक की भूमिका अदा करने वाली संस्था को नगर पालिका कहा जाता है।.
मामला मोहगाँव-खवासा सड़क निर्माण का (संजीव प्रताप सिंह) सिवनी (साई)। अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्रित्व काल की महत्वाकांक्षी स्वर्णिम चर्तुभुज.
अट्ठारह करोड़ के काम को दस करोड़ में कैसे करेगा ठेकेदार! (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। गृह निर्माण मण्डल के द्वारा.
(महेश रावलानी) सिवनी (साई)। जनवरी में शहर में अमूमन धूप गुनगुनी और रात के वक्त सर्दी के तेवर तीखे रहा.
सिविल सर्जन की आँखों का नूर . . . 02 (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। स्वास्थ्य संचालनालय चाहे जो आदेश जारी.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सिवनी के वनस्पति शास्त्र विभाग में एक अनुपम पहल के चलते वनस्पति विज्ञान.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *