खूब हो रही बिक्री, विभाग ने साधी चुप्पी

`

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। प्रदेश सरकार, पूरे प्रदेश में पॉलीथिन को बंद करने की घोषणा कर चुकी है लेकिन सिवनी में इसका कोई असर अब तक दिखायी नहीं दे रहा है। नगर पालिका सहित स्थानीय निकाय भी इस मामले में चुप्पी साधे बैठे हैं। स्थानीय निकाय ही चुप्पी साधे हुए हैं, जिसके चलते न केवल शहर में पॉलीथिन का कारोबार बढ़ रहा है वहीं उसका उपयोग भी धड़ल्ले से जारी है।

एक ओर जहां पॉलिथीन को खाने से गाय एवं अन्य जानवरों की मौत हो रही है, वहीं कचरे में सबसे अधिक पॉलीथिन ही नुकसान देह साबित हो रही है जो जलने पर जहरीला धुंआ छोड़ती है। नाले और सीवर लाईन में फंसकर, यह पॉलीथिन उसे जाम कर देती है। यह हालात तब हैं जब प्रदेश सरकार के द्वारा पॉलीथिन के बंद करने की घोषण की जा चुकी है।

सजा का प्रावधान

नियमों का उल्लंघन करते पाये जाने पर व्यक्ति संस्था संचालक आदि पर एक माह की सजा और एक हजार रुपये का जुर्माना किया जा सकता है। वहीं पुनः दोषी पाये जाने पर 03 माह का कारावास और 05 हजार का जुर्माना या दोनों लगाया जा सकता है। प्रमुख सचिव मध्य प्रदेश शासन नगरीय विकास एवं पर्यावरण विभाग द्वारा इस साल 25 मई को जैव अनाश्य अपशिष्ट (नियंत्रण) अधिनियम 2004 के तहत कार्यवाही करने के लिये निर्देशित किया गया था।

पॉलिथीन का सबसे अधिक उपयोग सब्जी मंडी, फल मंडी, किराने की दुकान और होटलों और डेयरियों पर हो रहा है। पॉलिथीन में ही खाद्य सामग्री रखकर या झूठन डालकर लोग घूरे पर फेंक देते हैं, जिसे भूखे जानवर अपनी भूख मिटाने के लिये खा जाते हैं और मौत के शिकार होते हैं।

 



9 Views.

Related News

कांग्रेस ने मांगा आजादी का हिसाब (प्रदीप आर्य) भोपाल (साई)। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में मंगलवार को भारतीय जनता.
(विजय सिंह राजपूत) इंदौर (साई)। मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर दहशत में है। यहां एक हाईटेक डकैतों का गिरोह.
(रश्मि सिन्हा) नई दिल्ली (साई)। सुप्रीम कोर्ट ने आधार की संवैधानिक वैधता को चुनौती देने वालों से जानना चाहा कि.
(रश्मि कुलश्रेष्‍ठ) नई दिल्‍ली (साई)। वर्ल्ड इकनॉमिक फोरम के उद्घाटन भाषण में पीएम नरेंद्र मोदी ने दुनिया की चुनौतियों को.
(राहुल तेलरांधे) औरंगाबाद (साई)। एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्र सरकार के तीन तलाक विधेयक पर सवाल उठाते हुए.
अगर आपका कुत्ता आपकी ओर देखकर गुर्राता है तो आप उसकी भावनाओं को बेहतर तरीके से समझ सकते है कि.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *