घंसौर में नहीं हुई जन सुनवायी

भटकते रहे ग्रामीण नहीं पहुँचे अधिकारी

(सुभाष बकौड़े)

घंसौर (साई)। प्रत्येक मंगलवार को होने वाली जन सुनवायी में इस मंगलवार को तहसील मुख्यालय घंसौर में एक भी अधिकारी के न पहुँचने के कारण ग्रामीण भटकते देखे गये।

ज्ञातव्य है कि जनपद पंचायत घंसौर में पिछले लगभग छः माहों में एक के बाद एक कई मुख्य कार्यपालन अधिकारियों की तैनाती हुई पर जनपद पंचायत अपने पुराने ढर्रे पर ही काम करती रही। हिमांशु कश्यप की तैनाती जब से यहाँ हुई है तब से यह माना जा रहा था कि वे जन सुनवायी को गंभीरता से लेंगे।

बताया जाता है कि मंगलवार को आयोजितजन सुनवायी के दौरान सीईओ हिमांशु कश्यप ने लोगों की व्यथा सुनने की बजाय अपने कार्यालय में ही बैठकर दीगर काम करना जरूरी समझा। 10 अक्टूबर को जन सुनवायी के लिये निर्धारित समय 11 बजे से एक बजे तक जन सुनवायी स्थल पर एक भी अधिकारी – कर्मचारी मौजूद नहीं रहा।

बताया जाता है कि एक बजे तक जन सुनवायी में कुर्सियां खाली ही पड़ी रहीं। ज्यादातर आवेदक जब निराश होकर लौट गये तब दोपहर डेढ़ बजे विकास खण्ड अधिकारी को जन सुनवायी के लिये भेजा गया। इसके बाद शेष उपस्थित रह गये लोगों के आवेदन लिये गये।

इस दौरान अपनी शिकायत लेकर पहुँचे ग्राम मेहता से बैजयंती बाई, प्रेमाबाई, रेता बाई, छीनी बाई बर्मन, मुन्नी बाई यादव, सुक्का बाई यादव, मेंम बाई, सभी विधवा पेंशन न मिलने की शिकायत लेकर पहुँचीं। इसी तरह ग्राम पल्हेरा से नन्हेलाल प्रधानमंत्री आवास की दूसरी क़िश्त अभी तक न मिलने की शिकायत लेकर पहुँचे थे।



2 Views

Related News

(शरद खरे) जिला मुख्यालय में छेड़छाड़ की घटनाओं में इजाफा होना चिंता का विषय है। हाल ही में बारापत्थर के.
मनरेगा में एलॉटमेंट का इंतजार कर रहीं पंचायतें (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। भारतीय जनता पार्टी की सरकार केंद्र में भी.
हाईटेक होने की ओर अग्रसर है सिवनी पुलिस (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। पुलिस अधीक्षक तरूण नायक के नेत्तृत्व में सिवनी.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सुख - समृद्धि और वैभव के पाँच दिवसीय पर्व दीपावली की शुरुआत मंगलवार को धनतेरस के.
सीएम हेल्प लाईन के लिये फिर दिये कलेक्टर ने निर्देश (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। कलेक्टर गोपाल चंद्र डाड की अध्यक्षता.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए दीपावली के अवसर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *