जल्द ही बेकार हो जाएंगे डेबिट और क्रेडिट कार्ड!

मोबाइल फोन से होगा लेनदेनः अमिताभ कांत

(अनेशा वर्मा)

नोएडा (साई)। नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने शनिवार को कहा कि अगले 3-4 साल में डेबिट, क्रेडिट कार्ड और एटीएम बेकार हो जाएंगे और लोग वित्तीय लेनदेन के लिए मोबाइल फोन्स का इस्तेमाल करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि भारत में 72 फीसदी जनसंख्या 32 वर्ष से कम आयु की है और यह डेमोग्राफिक डिविडेंट के मामले में अमेरिका और यूरोप के मुकाबले एक अडवांटेज होगा।

एमिटी यूनिवर्सिटी की नोएडा कैंपस में शनिवार को डॉक्टरेट की मानद उपाधि से नवाजे गए कांत ने कहा, भारत अगले 3-4 सालों में क्रेडिट-डेबिट कार्ड्स और एटीएम को तकनीकि रूप से अनावश्यक बना देगा। हम लेनदेन के लिए मोबाइल का इस्तेमाल करेंगे।

अमिताभ कांत ने कहा कि भारत दुनिया का एकमात्र ऐसा देश है जहां एक अरब बायॉमीट्रिक और इतने ही मोबाइल फोन्स व बैंक अकाउंट हैं और इसलिए सिर्फ यह देश कई बदलाव लाएगा। मोबाइल से वित्तीय लेनदेन का ट्रेंड तेजी से बढ़ रहा है।

उन्होंने आगे कहा, भारत करीब 7.5 फीसदी की गति से आगे बढ़ रहा है और दुनियाभर में बंजर आर्थिक परिदृश्य के बीच हरियाली है, लेकिन हमारी चुनौती और 9-10 फीसदी की गति से विकास हासिल करना है। उन्होंने कहा कि भारत एक बड़े बदलाव के दौर से गुजर रहा है जोकि इतिहास में कभी-कभी ही होता है।

नीति आयोग के सीईओ ने कहा, भारत की 72 फीसदी आबादी 32 साल से कम की है और 2040 तक हमारी जनसंख्या जवान और जवान होती जाएगी, जबकि अमेरिका और यूरोप की आबादी बूढ़ी और बूढ़ी होती जाएगी। हमें ऐसे समाज की जरूरत है जो हमेशा कुछ नया करे और यह बदलाव लाएगा।



0 Views

Related News

  (शरद खरे) सिवनी जिले में अब तक बेलगाम अफसरशाही, बाबुओं की लालफीताशाही और चुने हुए प्रतिनिधियों की अनदेखी किस.
  मानक आधार पर नहीं बने शहर के गति अवरोधक (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। जिला मुख्यालय सहित जिले भर में.
  धड़ल्ले से धूम्रपान, तीन सालों में एक भी कार्यवाही नहीं (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। रूपहले पर्दे के मशहूर अदाकार.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सर्दी का मौसम आरंभ होते ही हृदय और लकवा के मरीजों की दिक्कतें बढ़ने लगती.
  दिल्ली के पहलवान कुलदीप ने जीता खिताब (फैयाज खान) छपारा (साई)। बैनगंगा के तट पर बसे छपारा नगर में.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सिर पर टोपी, गले में लाल गमछा, साईकिल पर पर्यावरण के संदेश की तख्ती और.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *