तेजी से सिमट रहा सिवनी का वन्य क्षेत्र

मुझे शिकायत वन विभाग से है जिसके कर्मचारियों की लापरवाही के चलते सिवनी जिले में फैला वन क्षेत्र तेजी से सिमटकर मैदानों की शक्ल में तब्दील होता जा रहा है। वन विभाग ही नहीं बल्कि इस ओर किसी अन्य का भी ध्यान नहीं जा रहा है कि सिवनी जिले में वन संपदा का तेजी से दोहन किया जा रहा है।

समाचार पत्रों के जरिये जानकारी मिलती है कि वन विभाग के द्वारा वन्य प्राणियों की रक्षार्थ कई तरह के आयोजन किये जाकर लोगों में जागरूकता लाने का प्रयास किया जाता है। संभव है कि वन विभाग के द्वारा वन्य प्राणियों की रक्षा पर भी जोर दिया जाता हो। बावजूद इसके भले ही वन्य प्राणि बचाये न जा सक रहे हों लेकिन पेड़ों की कटाई को रोकने की दिशा में कोई कदम उठाता भी वन विभाग नहीं दिख रहा है।

ध्यान देने वाली बात ये है कि एक समय सिवनी के आसपास से लेकर दूर-दूर तक घने जंगल हुआ करते थे लेकिन आज ये पूरी तरह सपाट कर दिये गये हैं। इतने बड़े वन क्षेत्र को लकड़ी के तस्करों के द्वारा निगल लिया गया और अभी भी निगला ही जा रहा है लेकिन वन विभाग के द्वारा इस दिशा में कोई ठोस पहल न किये जाने से प्रकृति प्रेमियों में खासी निराशा पनप रही है।

कहने को तो सिवनी में वन विभाग का लंबा चौड़ा अमला मौजूद है लेकिन वे शायद सिर्फ और सिर्फ वेतनभोगी ही बने हुए हैं वरना क्या कारण है कि वन्य क्षेत्र तेजी से सिमटते जा रहे हैं और उसे बचाने के लिये कोई गंभीर भी नही दिख रहा है।

वन विभाग से अपेक्षा ही की जा सकती है कि यदि वह वास्तव में वन्य प्राणियों को बचाने की दिशा में गंभीरता से कार्य करना चाहता है तो उसे सबसे पहले पेड़ों की कटाई को रोकना होगा क्योंकि जब पेड़-पौधे ही न रह जायेंगे तो जंगल का अस्तित्व कहाँ रह जायेगा। जंगल का अस्तित्व ही जब न बचेगा तो वहाँ रहने वाले प्राणि कैसे बच सकेंगे।

मोहम्मद फिरोज


अगर आपको भी व्यवहारिक जीवन में किसी से कोई शिकायत है और आप उसे सार्वजनिक करना चाह रहे हैं ताकि लोग उस शिकायत को पढ़कर अपनी गलति का अहसास करते हुए उसे न दोहराएं तो
आप व्हाट्स ऐप नंबर 9425175750, 9584647438 या 9300287551 अथवा मेल आईडी samacharagency@gmail.com ,hindgazette@gmail.com पर मेल कर अपनी शिकायत भेज सकते हैं.

0 Views

Related News

जिले में ग्राम पंचायतों के कार्यक्रमों में बढ़ रही अश्लीलता! (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। जिले में ग्राम पंचायतों के घोषित.
(शरद खरे) जिला मुख्यालय में सड़कों की चौड़ाई क्या होना चाहिये और सड़कों की चौड़ाई वास्तव में क्या है? इस.
मनमाने तरीके से हो रही टेस्टिंग, नहीं हो रहा नियमों का पालन! (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। लोक निर्माण विभाग में.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। नगर पालिका में चुनी हुई परिषद के कुछ प्रतिनिधियों के द्वारा मुख्य नगर पालिका अधिकारी के.
खराब स्वास्थ्य के बाद भी भूख हड़ताल न तोड़ने पर अड़े भीम जंघेला (ब्यूरो कार्यालय) केवलारी (साई)। विकास खण्ड मुख्यालय.
(खेल ब्यूरो) सिवनी (साई)। भारतीय जनता पार्टी के सक्रय एवं जुझारू कार्यकर्ता तथा पूर्व पार्षद रहे संजय खण्डाईत अब भाजपा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *