दुधमुंहे बच्चे और महिलाएं होती रहीं हलाकान

एलटीटी कैंप में सर्जन पहुँचे रात 08 बजे

(फैयाज खान)

छपारा (साई)। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्रत्येक बुधवार को आयोजित नसबंदी कैंप में सर्जन्स के रात आठ बजे पहुँचने से कड़कड़ाती ठण्ड में दुधमुँहे बच्चे एवं महिलाएं देर रात तक परेशान होती नजर आयीं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रत्येक बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एलटीटी कैंप का आयोजन किया जाता है। इस तरह के कैंप में 30 से 80 मरीज तक पहुँचते हैं। 22 नवंबर को 32 महिलाएं कैंप में पहुँचीं थीं। इस शिविर में सिवनी से आने वाले चिकित्सकों के समय पर न पहुँच पाने के कारण ठण्ड में महिलाएं और उनके दुधमुँहे बच्चे परेशान होते दिखे।

ऑपरेशन कराने पहुँचीं महिलाओं के परिजनों ने बताया कि वे सुबह आठ बजे से इस शिविर में पहुँचे थे। लगभग बारह घंटे बाद रात आठ बजे सिवनी से सर्जन के पहुँचने के बाद ऑपरेशन का काम आरंभ हुआ। परिजनों के अनुसार कोई 20 तो कोई 30 किलोमीटर दूर से छपारा पहुँचा था। इस तरह की अव्यवस्थाओं के चलते परिजनों में खासा आक्रोश भी देखने को मिला।



0 Views

Related News

जिले में ग्राम पंचायतों के कार्यक्रमों में बढ़ रही अश्लीलता! (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। जिले में ग्राम पंचायतों के घोषित.
(शरद खरे) जिला मुख्यालय में सड़कों की चौड़ाई क्या होना चाहिये और सड़कों की चौड़ाई वास्तव में क्या है? इस.
मनमाने तरीके से हो रही टेस्टिंग, नहीं हो रहा नियमों का पालन! (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। लोक निर्माण विभाग में.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। नगर पालिका में चुनी हुई परिषद के कुछ प्रतिनिधियों के द्वारा मुख्य नगर पालिका अधिकारी के.
मंगलवार से ठण्ड पर लग सकता है विराम! (महेश रावलानी) सिवनी (साई)। उत्तर भारत से आने वालीं सर्द हवाओं की.
खराब स्वास्थ्य के बाद भी भूख हड़ताल न तोड़ने पर अड़े भीम जंघेला (ब्यूरो कार्यालय) केवलारी (साई)। विकास खण्ड मुख्यालय.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *