नल उगल रहे बीमारी, अस्पतालों में बढ़ रहे मरीज!

नवीन जलावर्धन योजना के आगाज के बाद भी हालत हो रहे बदतर

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। नगर पालिका परिषद के द्वारा नवीन जलावर्धन योजना का काम कथित रूप से तेज गति से कराये जाने के बाद भी नगर में लोगों को गंदे और बदबूदार पानी से निजात नहीं मिल सकी है।

शहर में उल्टी, दस्त के मरीजों के साथ ही फीवर के मरीज भी अब बढ़ी संख्या में अस्पतालों में पहुँच रहे हैं। डॉक्टर इसे मलेरिया का खतरा बता रहे हैं। अन्य शासकीय अस्पतालों के साथ ही निजि अस्पतालों में भी फीवर वाले मरीजों की संख्या बढ़ गयी है। शहर में फैल रही गंदगी और नलों में आ रही गंदा पानी पीने की वजह से लोग बीमार हो रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी पानी मंें क्लोरीन डालकर व उबालकर पीने की सलाह दे रहे हैं।

चिकित्सकों का कहना है कि फीवर के जो मरीज बढ़े हैं उनके सेंपल लिये जाने चाहिये। स्वास्थ्य विभाग किसी भी फीवर का इलाज मलेरिया मानकर ही आरंभ करता है। उधर उल्टी-दस्त के मरीजों की किडनी फेल होने के पीछे कारण है, वे बीमारी के दौरान पानी पीना बंद कर देते हैं। मोशन के दौरान वे सुस्त हो जाते हैं और बिस्तर पकड़ लेते हैं।

चिकित्सकों के अनुसार इससे शरीर में पानी की कमी हो जाती है और वे मोशन के डर से पानी पीना बंद कर देते हैं, जबकि ऐसे समय पानी या ओआरएस की जरूरत होती है। डिहाईड्रेशन के चलते ही किडनी पर जोर पड़ता है और वह फेल हो जाती है। इसलिये स्वास्थ्य विभाग निःशुल्क ओआरएस देता है, ताकि मरीज को अस्पताल लाने से पहले वह दे दिया जाये जिससे राहत मिल जाये और खतरा भी कम हो जाये।

यहाँ उल्लेखनीय होगा कि सिवनी में नगर पालिका परिषद के द्वारा नियम विरूद्ध तरीके से नवीन जलावर्धन योजना की निविदा में पुरानी जलावर्धन योजना के संधारण को शामिल कर दिया गया था, जबकि पुरानी जलावर्धन योजना के संधारण की निविदा का ही प्रकाशन नहीं किया गया था।

पालिका के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि नवीन जलावर्धन योजना में शहर भर में बेतरतीब तरीके से डाली जा रही पाईप लाईन और स्थान – स्थान पर नयी बनी सड़कों को जिस तरह बेदर्दी से खोदा जा रहा है उस ओर ध्यान देने की बजाय नवागत मुख्य नगर पालिका अधिकारी नवनीत पाण्डेय के द्वारा दीगर गैर जरूरी कामों में ज्यादा दिलचस्पी दिखायी जा रही है।



17 Views.

Related News

(शरद खरे) सिवनी में पुलिस की कसावट के लिये पुलिस अधीक्षक तरूण नायक के द्वारा प्रयास किये जा रहे हैं।.
गंभीर अनियमितताओं के बाद भी लगातार बढ़ रहा है ठेके का समय (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। इंदौर मूल की कामथेन.
मामला मोहगाँव-खवासा सड़क निर्माण का (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्रित्व काल की महत्वाकांक्षी स्वर्णिम चर्तुभुज सड़क.
नालियों में उतराती दिखती हैं शराब की खाली बोतलें! (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। विधानसभा मुख्यालय केवलारी के अनेक कार्यालयों में.
धोखे से जीत गये बरघाट सीट : अजय प्रताप (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। भाजपा के आजीवन सदस्यों के सम्मान समारोह.
(महेश रावलानी) सिवनी (साई)। बसंत के आगमन के साथ ही ठण्डी का बिदा होना आरंभ हो गया है। पिछले दिनों.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *