निःशक्तजन मूल्यांकन शिविर संपन्न

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। निःशक्तजन छात्र – छात्राओं का कक्षा 01 से 12 तक का मूल्यांकन शिविर कलेक्टर जी.सी. डाड एवं जी.एस.बघेल प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी के निर्देशन में केवलारी विकासखण्ड के उत्कृष्ट विद्यालय में सम्पन्न हुआ। इस शिविर का उद्देश्य निःशक्तजन एवं छात्र, छात्राओं को समाज की मुख्यधारा से जोड़ना एवं उनमें ऊर्जा का संचार स्थापित करना था।

इस शिविर में अस्थि बाधित 49, दृष्टि बाधित 13, श्रवण बाधित 12, मानसिक बाधित 20, इस तरह कुल 94 छात्र, छात्राओं का पंजीयन किया गया। इनमें से 89 छात्र, छात्राओं को प्रमाण पत्र वितरित किये गये साथ ही अन्य को परामर्श दिया गया।

यह शिविर पूरे सिवनी जिले के प्रत्येक विकासखण्ड में लगाया जा रहा है। सहायक जिला परियोजना समन्वयक महेश कुमार गौतम के प्रयासों एवं शासन की मंशानुरूप ये शिविर आयोजित किये जा रहे हैं। विकास खण्ड केवलारी में आयोजित शिविर में विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयक (बीआरसीसी) सी.एम.बघेल, एम.जी. कुशवाहा, मो.शाबिर खान स्त्रोत समन्वयक सिवनी, परसराम देशमुख बरघाट, राज कुमार सनोडिया भोमा, गीता अमरोदिया धनौरा जिला पुर्नवास केन्द्र सिवनी (डीडीआरसी) की पूरी टीम विकासखण्ड केवलारी के समस्त चिकित्सकों ने अपना महत्वपूर्ण सहयोग प्रदान किया।

स्त्रोत समन्वय मो.शाबिर खान ने इस संबंध में बताया कि इस शिविर में निःशक्तजनों के निःशक्त छात्र – छात्राओं के प्रमाण पत्र बनवाये गये.. उनका वितरण किया गया। उनका वितरण महेश कुमार गौतम के द्वारा किया गया। सुबह से लेकर शाम तक आयोजित इस शिविर में समस्त निःशक्तजनों को मार्गदर्शन प्रदान किया गया एवं दोपहर में भोजन प्रदान किया जाकर शाम 05 बजे शिविर की समाप्ति की गयी।

इस शिविर में विकासखण्ड केवलारी के समस्त छात्र – छात्राओं ने उपस्थित होकर अपना मूल्यांकन करवाया एवं जिला मेडिकल बोर्ड से प्रमाण पत्र एवं परामर्श प्राप्त किया। इसी क्रम में 06 नवम्बर को विकास खण्ड धनौरा, 07 नवम्बर को विकास खण्ड घंसौर एवं अंतिम शिविर 18 नवम्बर को शासकीय उर्दू स्कूल मैदान में आयोजित किया जायेगा। इस शिविर में समस्त छात्र – छात्राओं के उपस्थित होने की अपील की गयी है।



0 Views

Related News

  मानक आधार पर नहीं बने शहर के गति अवरोधक (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। जिला मुख्यालय सहित जिले भर में.
  धड़ल्ले से धूम्रपान, तीन सालों में एक भी कार्यवाही नहीं (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। रूपहले पर्दे के मशहूर अदाकार.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सर्दी का मौसम आरंभ होते ही हृदय और लकवा के मरीजों की दिक्कतें बढ़ने लगती.
  दिल्ली के पहलवान कुलदीप ने जीता खिताब (फैयाज खान) छपारा (साई)। बैनगंगा के तट पर बसे छपारा नगर में.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सिर पर टोपी, गले में लाल गमछा, साईकिल पर पर्यावरण के संदेश की तख्ती और.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। पाईप लाईन के वॉल्व को बदलने का समय गलत चुनने के चक्कर में अकबर वार्ड स्थित.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *