बालपुर में मिली 11वीं सदी की प्राचीन प्रतिमा

(सुभाष बकौड़े)

घंसौर (साई)। जिले के आदिवासी बाहुल्य घंसौर ब्लॉक के बालपुर गाँव में 11वीं सदी की प्राचीन प्रतिमा मिली है। बालपुर के किसान भुक्कू पिता रत्नू को खेत में खुदाई के दौरान कल्चुरी काल की 11वीं सदी की प्रतिमा मिली। पुरातत्व विभाग के अनुसार यह प्रतिमा योगिनी कौल संप्रदाय की आराध्य देवी हैं।

पुरातत्व विभाग के वरिष्ठ मार्गदर्शक आर.के. सोनी ने बताया है कि प्रतिमा को जिला पुरातत्व संग्रहालय सिवनी में सुरक्षित रखवा दिया गया है। प्रतिमा स्थानीय भूरे बलुआ स्तर पर निर्मित है। प्रतिमा में योगिनी को द्विभंग मुद्रा में दिखाया गया है। योगिनी का शरीर स्त्री का है और मुख पशु का है।

प्रतिमा की आठ भुजाएं हैं। इस प्रतिमा के दाहिनी ओर के ऊपर हाथ में तलवार, दूसरे हाथ में चक्र, तीसरे में कमल तथा चौथा अस्पष्ट है। बायीं ओर हाथ में अग्नि, द्वितीय हाथ में खेटक, तीसरे में धनुष तथा चौथी भुजा में असुर पैर को कठोरता से पकड़ा है। देवी के मस्तक पर सुंदर मुकुट गले में हार, मंगलसूत्र हाथ में कंगन, कर्धन, वस्त्र आदि आभूषणों से अलंकृत है।



140 Views.

Related News

(शरद खरे) सामान्य शब्दों में नगर के पालक की भूमिका अदा करने वाली संस्था को नगर पालिका कहा जाता है।.
मामला मोहगाँव-खवासा सड़क निर्माण का (संजीव प्रताप सिंह) सिवनी (साई)। अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्रित्व काल की महत्वाकांक्षी स्वर्णिम चर्तुभुज.
अट्ठारह करोड़ के काम को दस करोड़ में कैसे करेगा ठेकेदार! (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। गृह निर्माण मण्डल के द्वारा.
(महेश रावलानी) सिवनी (साई)। जनवरी में शहर में अमूमन धूप गुनगुनी और रात के वक्त सर्दी के तेवर तीखे रहा.
सिविल सर्जन की आँखों का नूर . . . 02 (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। स्वास्थ्य संचालनालय चाहे जो आदेश जारी.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सिवनी के वनस्पति शास्त्र विभाग में एक अनुपम पहल के चलते वनस्पति विज्ञान.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *