भारतीय स्टेट बैंक ने लोन की ब्याज दरें घटाईं

(वाय.के.पाण्डेय)

नई दिल्ली (साई)। भारतीय स्टेट बैंक ने 10 महीने में पहली बार पूरी मैच्योरिटी में 5 बेसिस पॉइंट्स (बीपीएस) तक लोन दर (मार्जिनल कोस्ट बेस्ड लेंडिंग रेट्स या डब्स्त्) कम किया है। इसलिए, नया एक साल का एमसीएलआर अब 7.95 प्रतिशत हो गया है। यह पहले 8 प्रतिशत था।

एक नवंबर से होम लोन ब्याज दर 8.30 प और आटो लोन 7.70 प हो गई है। बैंक और फाइनेंस इंस्टिट्यूट्स ब्याडज दर में लगातार कटौती कर रहे हैं। उन्होंने डिमोनेटाइजेशन अवधि के दौरान बड़ी तेजी से अपने लोन की ब्याज दरों में कटौती की थी। अगर आप निश्चित दर लोन चुका रहे हैं तो आप चाहें तो एक एमसीएलआर-लिंक्ड लोन में ट्रांसफर कर सकते हैं, जिसमें आगे चलकर लाखों रुपये की बचत होने की संभावना है।

सस्ते लोन में करा लें ट्रांसफर : 1 अप्रैल 2016 से दिए जाने वाले सभी नए अस्थायी दर बैंक लोन एमसीएलआर से जुड़े हैं। यदि आप अपने लोन की ब्याज दर से खुश नहीं हैं तो आपके पास एक एमसीएलआर-लिंक्ड लोन में ट्रांसफर होने का ऑप्शन है। ये लोन आरबीआई के आदेश पर दर में कटौती के अनुसार अपनी ब्याज दरों को अपने आप रिसेट कर देते हैं। उदाहरण के लिए, हर छः महीने में ये दरें अपने आप रिसेट हो सकती हैं।

एमसीएलआर ग्राहकों के लिए काफी फायदेमंद : गिरती ब्याज दरों को देखते हुए, एमसीएलआर ग्राहकों के लिए काफी फायदेमंद साबित हुआ है। आप सबसे अच्छा सौदा पाने के लिए अपने बैंक में जाकर या अन्य बैंकों में जाकर भी एमसीएलआर-लिंक्ड लोन के बारे में जानकारी ले सकते हैं। अगर आप इसमें लोन शिफ्ट करेंगे तो आपको ट्रांसफर और लोन प्रोसेसिंग का चार्ज देना पड़ेगा। इसलिए आपको यह जरूर देख लेना चाहिए कि यह खर्च आपके ब्याज में होने वाली बचत से ज्यादा न हो। यदि आपका लोन एक एनबीएफसी में है तो आप बाहर से सस्ते लोन ढूंढ सकते हैं, या ऑनलाइन उपलब्ध तरह-तरह के विकल्पों की तुलना कर सकते हैं।

मूलधन का पहले भुगतान करें : यदि आप अपने लोन की ब्याज दर से खुश नहीं हैं तो ब्याज दर कम होने पर मूलधन का पहले भुगतान करने की योजना बनाएं। ब्याज दर नीचे जाते ही, मूलधन का पहले भुगतान करने से आपको अपने लोन बैलेंस को कम करने में काफी मदद मिलेगी। ज्यादा ब्याज दर पर पहले भुगतान करने की तुलना में यह अधिक फायदेमंद है।



0 Views

Related News

  (शरद खरे) सिवनी जिले में अब तक बेलगाम अफसरशाही, बाबुओं की लालफीताशाही और चुने हुए प्रतिनिधियों की अनदेखी किस.
  मानक आधार पर नहीं बने शहर के गति अवरोधक (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। जिला मुख्यालय सहित जिले भर में.
  धड़ल्ले से धूम्रपान, तीन सालों में एक भी कार्यवाही नहीं (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। रूपहले पर्दे के मशहूर अदाकार.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सर्दी का मौसम आरंभ होते ही हृदय और लकवा के मरीजों की दिक्कतें बढ़ने लगती.
  दिल्ली के पहलवान कुलदीप ने जीता खिताब (फैयाज खान) छपारा (साई)। बैनगंगा के तट पर बसे छपारा नगर में.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सिर पर टोपी, गले में लाल गमछा, साईकिल पर पर्यावरण के संदेश की तख्ती और.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *