मध्यप्रदेश के बड़े शहरों में बीसीएलएल चलाएगा इंटरसिटी बसें

(सोनल सूर्यवंशी)

भोपाल (साई)। राजधानी के बाद अब प्रदेश के उज्जैन, ओंकारेश्वर, ग्वालियर, जबलपुर, पचमढ़ी आदि शहरों में भी लोक परिवहन सुविधा शुरू होगी। भोपाल सिटी लिंक लिमिटेड (बीसीएलएल) ने 34 रूटों पर 110 इंटरसिटी बसें चलाने के लिए ऑफर बुलाए हैं।

इन रूटों को दिशा के हिसाब से चार क्लस्टर में बांटा गया है। यहां 51 एसी और 59 नॉन एसी बसें चलेंगी। टेंडर की शर्तों के हिसाब से अधिकतम तीन ऑपरेटरों को मिलकर सभी क्लस्टर में बस संचालन करना होगा। एक ऑपरेटर के लिए एक क्लस्टर में शामिल सभी रूटों पर बसें चलाना अनिवार्य होगा। ऑफर आने के बाद तीन महीने में कंपनी का चयन होगा।

ऑपरेटर खुद के पैसों से खरीदेगा बसें  : टेंडर की शर्तों के हिसाब से ऑपरेटरों को खुद की अपनी बसें खरीदनी होंगी। बीसीएलएल वाइबिलिटी गैप फंडिंग (वीजीएफ) मॉडल पर संबंधित ऑपरेटर को भुगतान करेगा। लेकिन बीसीएलएल द्वारा जीपीएस के माध्यम से बसों की निगरानी होगी। गड़बड़ी पर ऑपरेटर पर कार्रवाई बीसीएलएल करेगा। अमृत से मिलने वाली रकम सबसिडी के रूप ऑपरेटर को दी जाएगी।

पहले योजना फ्लॉप हो चुकी है  : बता दें कि बीसीएलएल ने चार साल पहले भोपाल से मुंबई, अहमदाबाद, रायपुर आदि प्रदेश के बाहर के शहरों तक बस चलाने के लिए ऑफर बुलाए थे, लेकिन ऑपरेटर नहीं मिले थे। अब बीसीएलएल ने प्रदेश के बड़े शहरों के लिए रूट तैयार किया है।

इन रूटों पर चलेंगी 110 बसें

क्लस्टर ए- भोपाल से झाबुआ, उज्जैन, नीमच, सिलवानी, टीकमगढ़, इछावर, राजनगर, ओमकारेश्वर- 24 बसें

क्लस्टर बी- भोपाल से बैरसिया, सिरोंज, लटेरी, सागर, रायसेन, बसोदा, इकलेरा, अशोक नगर- 30 बसें

क्लस्टर सी- भोपाल से बकतरा, जबलपुर, भारकछ, चिकलोद, तेंदूखेड़ा, मंडला, डिंडोरी, पांडुरना- 22 बसें

क्लस्टर डी- भोपाल से सारणी, मुलताई, हरदा, नसरुल्लागंज, ब्यावरा, पचमढ़ी, ओबेदुल्लागंज, ग्वालियर- 34 बसें।



0 Views

Related News

  (शरद खरे) सिवनी जिले में अब तक बेलगाम अफसरशाही, बाबुओं की लालफीताशाही और चुने हुए प्रतिनिधियों की अनदेखी किस.
  मानक आधार पर नहीं बने शहर के गति अवरोधक (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। जिला मुख्यालय सहित जिले भर में.
  धड़ल्ले से धूम्रपान, तीन सालों में एक भी कार्यवाही नहीं (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। रूपहले पर्दे के मशहूर अदाकार.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सर्दी का मौसम आरंभ होते ही हृदय और लकवा के मरीजों की दिक्कतें बढ़ने लगती.
  दिल्ली के पहलवान कुलदीप ने जीता खिताब (फैयाज खान) छपारा (साई)। बैनगंगा के तट पर बसे छपारा नगर में.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सिर पर टोपी, गले में लाल गमछा, साईकिल पर पर्यावरण के संदेश की तख्ती और.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *