युवतियों ने दिखाये पहलवानी के हुनर

(ब्यूरो कार्यालय)

धारना (साई)। दांव-पेंच और दमदारी के खेल दंगल में युवक ही नहीं अब युवतियां भी हौसले के साथ न सिर्फ जोर लगा रहीं हैं, बल्कि खिताब भी पा रहीं हैं। ऐसे ही कला-कौशल और दांव-पेंच की पहलवानी सोमवार को बरघाट क्षेत्र के धारनाकला गांव में देखने को मिली, जहां देश के कई राज्यों की धाकड़ महिला पहलवानों ने प्रतियोगिता में हिस्सा लिया।

बरघाट क्षेत्र के ग्राम धारना कला में दंगल प्रतियोगिता का आयोजन बजरंग दल के नेत्तृत्व में किया गया। इसमें देश के कई प्रांत व प्रदेश के जबलपुर, मंडला, बालाघाट, छिंदवाड़ा, सिवनी सहित अन्य जिलों के प्रतिभागी पहलवानों ने हिस्सा लिया।

आयोजन समिति के सदस्यों ने बताया कि इस क्षेत्र में दंगल प्राचीन समय से खेला जाता रहा है, किंतु धारनाकला गांव में दंगल प्रतियोगिता का आयोजन करीब 25 वर्षों के बाद किया गया है। इसमें महिला खिलाड़ी एवं पुरुष खिलाड़ियों ने शामिल होकर चुस्ती-फूर्ति और कला का प्रदर्शन करते हुए दर्शकों का मनोरंजन किया व खिताब भी जीते। महिला पहलवानों के शानदार प्रदर्शन पर उपस्थित दर्शकों ने भी उन्हें अपनी ओर से पुरूस्कृत किया।

आयोजकों का कहना है कि महिला दंगल प्रतियोगिता उनके द्वारा इसलिये रखी गयी ताकि इससे उनके बरघाट क्षेत्र व सिवनी जिले से इस खेल में खिलाड़ी प्रोत्साहित हों और अच्छे खिलाड़ी सामने आयें। इस आयोजन से महिलाओं का खेल के प्रति उत्साह बढ़ेगा। दर्शकों ने भी इस आयोजन की सराहना करते हुए कहा कि हम यह चाहते हैं कि हमारे क्षेत्र के बच्चे जिला स्तर से प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर पर खेल में आगे आयें एवं हमारे जिले का व हमारे प्रदेश का नाम गौरवान्वित करें।

इस अवसर पर कार्यक्रम के आयोजक बजरंग दल धारना कला के सदस्यों सहित बालाघाट से आये ललित पारधी, सुरेश नागराज, अखिलेश राहंगडाले, संजय काड़े, सरपंच मनोज राहंगडाले एवं ग्रामीणजन बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।



0 Views

Related News

  मानक आधार पर नहीं बने शहर के गति अवरोधक (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। जिला मुख्यालय सहित जिले भर में.
  धड़ल्ले से धूम्रपान, तीन सालों में एक भी कार्यवाही नहीं (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। रूपहले पर्दे के मशहूर अदाकार.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सर्दी का मौसम आरंभ होते ही हृदय और लकवा के मरीजों की दिक्कतें बढ़ने लगती.
  (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सिर पर टोपी, गले में लाल गमछा, साईकिल पर पर्यावरण के संदेश की तख्ती और.
  दिल्ली के पहलवान कुलदीप ने जीता खिताब (फैयाज खान) छपारा (साई)। बैनगंगा के तट पर बसे छपारा नगर में.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। पाईप लाईन के वॉल्व को बदलने का समय गलत चुनने के चक्कर में अकबर वार्ड स्थित.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *