राजेश तिवारी के मोबाईल से हुए अश्लील मैसेज!

मैसेज डलने के बाद पता चला एडीशनल एसपी को कि उनका मोबाईल हुआ है चोरी!

(सतीश जॉनी)

जबलपुर (साई)। सिवनी में अनुविभागीय अधिकारी पुलिस रहे एवं वर्तमान में जबलपुर के उत्तर संभाग के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश तिवारी के मोबाईल से सोशल मीडिया पर देर रात डले अश्लील मैसेज तेजी से वायरल हुए तब उनके परिचितों ने उन्हें इस बात की खबर दी और उसके बाद ही राजेश तिवारी को पता चला कि उनका मोबाईल कहीं खो गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार एएसपी नॉर्थ राजेश तिवारी का मोबाईल गुरुवार रात कहीं गुम हो गया, लेकिन उन्हें पता ही नहीं चला। देर रात एएसपी के वॉट्सएप, फेसबुक एकाउंट से अश्लील वीडियो और तस्वीरें धड़ाधड़ वायरल होने लगीं। यह देख उनके परिचित हैरान रह गये। कुछ ने चुटकी लेने के अंदाज में एएसपी को फोन कर इसकी जानकारी दी तो वे भी हैरान रह गये।

बताया जाता है कि जब उन्होंने चेक किया तो उनका मोबाईल गायब मिला, जिसके बाद एएसपी श्री तिवारी सीधे संजीवनी नगर थाने पहुँचे और शिकायत दर्ज कराके नंबर ब्लॉक कराया। थाने से मामला क्राईम ब्रांच को सौंप दिया गया है। साईबर सेल लगातार इस बात की जानकारी जुटा रही है कि वीडियो और तस्वीरें किसने वायरल की हैं।

पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि गुरुवार को एएसपी नॉर्थ राजेश तिवारी की रात्रि गश्त थी। इस दौरान वे पूरे शहर में चेकिंग करते हुए रात लगभग 01 बजे ग्वारीघाट पहुँचे, जहाँ उनके दूसरे नंबर पर परिचित ने फोन करके उन्हें बताया कि आपके वॉट्सएप और फेसबुक से अश्लील वीडियो और तस्वीरें लगातार पोस्ट की जा रहीं हैं।

सूत्रों ने बताया कि उसके बाद एएसपी तिवारी ने चेक किया तो सैमसंग गैलेक्सी मोबाईल गायब मिला, जिसके बाद एएसपी ने तत्काल साईबर सेल से पता करवाया तो जानकारी लगी कि मोबाईल की आखिरी लोकेशन उनके घर के पास संजीवनी नगर में मिली। इसके बाद वे सीधे संजीवनी नगर थाने पहुँचे और अधिकृत रूप से मोबाईल गुमने की शिकायत दी।

क्राईम ब्रांच जाँच में जुटी : एएसपी श्री तिवारी के नाम से उनके मोबाईल वॉट्सएप के कई गु्रपों में अश्लील वीडियो और तस्वीरें वायरल किसने किये इसको लेकर क्राईम ब्रांच जाँच कर रही है।



0 Views

Related News

जिले में ग्राम पंचायतों के कार्यक्रमों में बढ़ रही अश्लीलता! (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। जिले में ग्राम पंचायतों के घोषित.
(शरद खरे) जिला मुख्यालय में सड़कों की चौड़ाई क्या होना चाहिये और सड़कों की चौड़ाई वास्तव में क्या है? इस.
मनमाने तरीके से हो रही टेस्टिंग, नहीं हो रहा नियमों का पालन! (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। लोक निर्माण विभाग में.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। नगर पालिका में चुनी हुई परिषद के कुछ प्रतिनिधियों के द्वारा मुख्य नगर पालिका अधिकारी के.
खराब स्वास्थ्य के बाद भी भूख हड़ताल न तोड़ने पर अड़े भीम जंघेला (ब्यूरो कार्यालय) केवलारी (साई)। विकास खण्ड मुख्यालय.
(खेल ब्यूरो) सिवनी (साई)। भारतीय जनता पार्टी के सक्रय एवं जुझारू कार्यकर्ता तथा पूर्व पार्षद रहे संजय खण्डाईत अब भाजपा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *