वन अधिकारियों ने छीनीं बच्चों की रोटियां, जलाए घर

 

(ब्‍यूरो कार्यालय)

गुना (साई)। मध्य प्रदेश के जंगलों से एक हैरान करने वाली खबर आई है। यहां वन अधिकारियों पर सहरिया समुदाय के लोगों पर अत्याचार करने का आरोप लगा है। अधिकारियों पर आरोप है कि उन्होंने पिछले महीने जंगल से अतिक्रमण हटाने के दौरान सहरिया समुदाय के लोगों के बच्चों के हाथ से खाना छीना, महिलाओं को धक्का दिया, उनके गेहूं के भंडार को नष्ट कर दिया और उनकी हाथ से बनाई झोपड़ियों को आग लगा दी।

आरोप है कि अधिकारियों ने सात लोगों को जबरदस्ती मुर्गा भी बनाया और इतना अत्याचार करने के बाद वन विभाग ने इन लोगों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करा दी। बच्चों और महिलाओं समेत करीब 50 लोगों को खुले में ठंड की रात बिताने पर मजबूर होना पड़ा।

मामला जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक पहुंचा तो गुना प्रबंधन ने घटना की जांच करवाने का निर्णय लिया। गुना के एडीएम नियाज खान ने बताया, ‘जांच में वन अधिकारियों द्वारा सहरिया जनजाति समुदाय पर हुए अत्याचार और इस अमानवीय कृत्य का खुलासा हुआ। चूंकि उनके खिलाफ वन विभाग द्वारा प्राथमिकी दर्ज की गई है, इसलिए एक वरिष्ठ अधिकारी द्वारा मामले एक विस्तृत जांच होनी चाहिए थी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि उनके खिलाफ कोई एकतरफा कार्रवाई नहीं की गई है। हमने एफआईआर पर एक अतिरिक्त एसपी स्तर के अधिकारी द्वारा जांच की सिफारिश की है ताकि कोई अन्याय नहीं हो।

कथित घटना 15 नवंबर को हुई जब 100 वनों के वन कर्मचारियों ने गुना में बामोरी विकास खंड के रामपुर वन क्षेत्र में छापे मारे। कहा गया था कि यहां सहरिया जनजाति के लोगों ने वन पर अतिक्रमण किया है और घर बनाए हैं। जांच रिपोर्ट के मुताबिक, जंगल में दल ने हिंसक तरीके से काम किया और मकानों को जलाने और कुपोषित बच्चों से रोटियों को छीनने की कोशिश की।

नियाज खान की अगुआई वाली एक टीम को इसकी जांच करने के लिए कहा गया था। खान ने मौके जाकर लगभग 40 लोगों के बयान दर्ज किए।



0 Views.

Related News

(शरद खरे) सिवनी में पुलिस की कसावट के लिये पुलिस अधीक्षक तरूण नायक के द्वारा प्रयास किये जा रहे हैं।.
गंभीर अनियमितताओं के बाद भी लगातार बढ़ रहा है ठेके का समय (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। इंदौर मूल की कामथेन.
मामला मोहगाँव-खवासा सड़क निर्माण का (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्रित्व काल की महत्वाकांक्षी स्वर्णिम चर्तुभुज सड़क.
नालियों में उतराती दिखती हैं शराब की खाली बोतलें! (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। विधानसभा मुख्यालय केवलारी के अनेक कार्यालयों में.
धोखे से जीत गये बरघाट सीट : अजय प्रताप (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। भाजपा के आजीवन सदस्यों के सम्मान समारोह.
(महेश रावलानी) सिवनी (साई)। बसंत के आगमन के साथ ही ठण्डी का बिदा होना आरंभ हो गया है। पिछले दिनों.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *