विसंगतिपूर्ण है मोबिलिटी वाहनों की निविदा!

 

नौ लाख के भुगतान की हैं चर्चाएं!

(अखिलेश दुबे)

सिवनी (साई)। स्वास्थ्य विभाग में मोबिलिटी वाहनों की निविदा में अनेक विसंगतियां होने के बाद भी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) कार्यालय के द्वारा इनकी अनदेखी की जाकर नियमों को ठेंगा दिखाया जा रहा है। इस मद में नौ लाख रूपये के भुगतान की चर्चाएं भी चल पड़ी हैं।

सीएमएचओ कार्यालय के उच्च पदस्थ सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि वर्ष 2016 – 2017 के लिये मोबिलिटी वाहनों की निविदा में अनेक विसंगतियां थीं। सूत्रों ने बताया कि प्रभारी सीएमएचओ डॉ.आर.के. श्रीवास्तव एवं जिला परियोजना प्रबंधक (डीपीएम) दिनेश चौहान के द्वारा इन विसंगतियों को दरकिनार कर निविदा को स्वीकृत कर दिया गया था।

सूत्रों की मानें तो उक्त दोनों ही अधिकारियों के व्यक्तिगत हितों के चलते निविदा की तारीख में भी हेराफेरी की गयी है। सूत्रों ने कहा कि जिन वाहनों के नंबर के साथ निविदा डाली गयी थी, उन नंबर्स में हेराफेरी कर विभाग के द्वारा अन्य वाहनों को लगाये जाने के आदेश जारी कर दिये गये थे।

इसके साथ ही सूत्रों ने आगे बताया कि निविदाकर्ता के द्वारा जिन वाहनों की फेहरिस्त निविदा के दौरान सौंपी गयी थी, उन नंबर के वाहनों की बजाय अन्य नंबर्स के वाहन वर्तमान में संचालित किये जा रहे हैं। इनमें से कई वाहन तो संचालित भी नहीं हो रहे हैं और कागजों पर उनका संचालन दर्ज कराया जा रहा है। इन वाहनों का भुगतान भी बकायदा किया जा रहा है।

सूत्रों ने बताया कि इस तरह की कवायद से यह बात भी चर्चाओं में है कि जिस कंपनी को निविदा जारी की गयी है उसके साथ डीपीएम और सीएमएचओ की साझेदारी भी है, वरना क्या कारण है कि निविदाकर्ता के द्वारा दिये गये वाहनों के नंबर्स से पृथक नंबर्स के आदेश विभाग के द्वारा जारी किये गये हैं।

इसी तरह सूत्रों ने बताया कि वर्ष 2014 से लगातार ही निविदा में गड़बड़ियों की शिकायतों के बाद भी अब तक विभागीय उच्चाधिकारियों के द्वारा निविदाकर्ता फर्म के खिलाफ किसी तरह की कार्यवाही सुनिश्चित नहीं किया जाना इन चर्चाओं को बल देता है। सूत्रों ने कहा कि मोबिलिटी वाहनों की मद में हाल ही में नौ लाख रूपये के भुगतान की चर्चाएं भी जोरों पर हैं।

 



5 Views.

Related News

वर्षा ऋतु के तुरंत बाद ही शरद ऋतु शुरू हो जाती है. आश्विन और कार्तिक मास में शरद ऋतु का.
(निधि गुप्‍ता) मुंबई (साई)। कंगना रनौत ने करण जौहर से सारी नाराजगी भुलाते हुए उनके पैर छू डाले। दरअसल, कंगना.
(दीपक अग्रवाल) मुंबई (साई)। सुप्रीम कोर्ट के फिल्म रिलीज करने के आदेश के बावजूद 'पद्मावत' को लेकर विवाद जारी है।.
(अतुल खरे) मुंबई (साई)। डायरेक्टर संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावत' को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में विरोध जारी.
फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (FCI) ने वाचमैन के पद पर अपने यहां भर्तियां निकाली हैं. इच्छुक आवेदक इन पदों के.
(डॉ. वेदप्रताप वैदिक) दिल्ली सरकार के एक लोक-कल्याणकारी काम पर उप-राज्यपाल ने मोहर लगा दी, यह अच्छा किया। वे यदि.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *