शुभ योगों के साथ होगी नये साल की शुरूआत

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। 2017 बीतने को है और 2018 के आने में महज एक पखवाड़े से कुछ अधिक समय ही बाकी रह गया है। अंग्रेजी नये साल का आगाज अनेक शुभ संयोगों के साथ हो रहा है।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार सर्वार्थ सिद्ध योग, अमृत सिद्ध योग और मृगसिरा नक्षत्र के व्रत पूर्णिमा के शुभ संयोग में होगा। दोनों शुभ योग सूर्याेदय से आरंभ होंगे, जबकि वर्ष में ग्रह नक्षत्रों के परिवर्तन से कृषि, व्यापार और मौसम पर प्रभाव पड़ेगा। राजनीतिक उठापटक और तनाव ग्रस्त स्थिति बनी रहने की संभावना है। 17 मार्च से विरोधकृत संवत्सर आरंभ होगा, जिसमें राजा सूर्य और मंत्री शनि विरोधी ग्रह होंगे। इस कारण राजनीतिक उठापटक, कहीं सूखा तो कहीं मौसम का असंतुलन रहेगा।

पौष माह में दो पूर्णिमा

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार कई शुभ संयोगों में आरंभ हो रहे नव वर्ष में उन्नति और खुशहाली के मार्ग प्रशस्त होंगे। हालांकि ग्रहों के परिवर्तन से अलग – अलग राशि के जातकों पर भिन्न प्रभाव होगा। इस बार पौष माह में दो पूर्णिमा हैं। एक जनवरी को व्रत पूर्णिमा और दो जनवरी को स्नान दान पूर्णिमा है। पूर्णिमा के साथ माघ माह की अध्यात्मिक साधना आरंभ होगी।

राजा मंत्री होंगे विरोधी ग्रह

31 जनवरी को ज्योतिषाचार्यों के अनुसार पुष्य नक्षत्र में चन्द्र ग्रहण है। यह चंद्र ग्रहण भारत में दिखायी देगा। धनु राशि के शनि और तुला राशि के गुरु के कारण कृषक वर्ग की स्थिति सामान्य रहेगी। भूमि भवन के कारोबारी फायदे में रहेंगे। वर्षा काल में सूर्य के राशि परिवर्तन से संक्रामक बीमारियों के प्रकोप की आशंका है। 17 मार्च से विरोधकृत संवत्सर आरंभ होगा, जिसमें राजा सूर्य और मंत्री शनि विरोधी ग्रह होंगे। इस कारण राजनीतिक उठापटक, कहीं सूखा और मौसम का असंतुलन रहेगा।

राशियों पर असर

मेष : प्रसन्नता और लाभ होगा। वृष : व्यापार, व्यवसाय उन्नति के अवसर बनेंगे। मिथुन : स्वास्थ्य में गिरावट व चिंता हो सकती है। कर्क : माँगलिक कार्य की अधिकता रह सकती है। सिंह : धन का आवागमन बना रहेगा। कन्या : परेशानियों से राहत मिल सकती है।

इसी तरह तुला : नवीन कार्य प्रारम्भ हो सकते हैं। वृश्चिक : व्यापारिक यात्रा के योग बन रहे हैं। धनु : कार्यों में सफलता व प्रसन्नता अनुभव करेंगे। मकर : भाग्योन्नति के प्रयास सफल होंगे। कुम्भ : अकारण मानसिक परेशानी रह सकती है। मीन : समस्या का समाधान, उन्नति के अवसर बनेंगे।



56 Views.

Related News

(शरद खरे) समाज शास्त्र में औद्योगीकरण और नगरीकरण को एक दूसरे का पर्याय माना गया है। औद्योगीकरण जहाँ होगा वहाँ.
मौसम में बदलाव का दौर है जारी (महेश रावलानी) सिवनी (साई)। मकर संक्रांति के बाद सूर्य के उत्तरायण होने के.
रतजगा करते हुए कर रहे वोल्टेज बढ़ने का इंतजार (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। लगातार दो तीन वर्षों से अतिवृष्टि और.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। मध्य प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड क्षेत्रीय कार्यालय जबलपुर द्वारा सी.एम. हेल्पलाइन में की गयी शिकायत को.
राजेंद्र नेमा ने स्वामी नारायणानंद के द्वारा शंकराचार्य लिखे जाने पर माँगे प्रमाण (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। भगवत्पाद आद्यशंकराचार्य द्वारा.
आठ फीसदी ब्लो पर हुई निविदा स्वीकृत, भेजा शासन को अनुमोदन के लिये (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। अटल बिहारी वाजपेयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *