सिवनी का हो रहा अहित और संगठन की राजनीति में मस्त हैं नेता

महोदय मुझे एनएचएआई के द्वारा फोरलेन पर वसूले जा रहे टोल से शिकायत है। एनएचएआई के द्वारा फोरलेन मार्ग जितना भी बन चुका है उसका रख-रखाव सलीके से नियमानुसार नहीं किया जा रहा है और बावजूद इसके वाहन चालकों से टोल वसूलने में उसके द्वारा कोई कमी नहीं की जा रही है।

सिवनी जिले में टुकड़ों में बने फोरलेन मार्ग का संधारण ही नहीं किया जा रहा है। यहाँ पर कई स्थानों पर गड्ढे उभर चुके हैं लेकिन उनका भराव नहीं किया गया है। कई स्थानों पर डामर की ऊपरी परत दम तोड़ चुकी है लेकिन उसकी लेयर बिछाने की जहमत भी नहीं उठायी जा रही है।

यह स्थिति सिवनी से मोहगाँव या सिवनी से छपारा होकर लखनादौन तक ही नहीं बल्कि लखनादौन से नरसिंहपुर तक भी हैं यहाँ कई स्थानों पर डामर की ऊपरी परत सड़क का साथ छोड़ चुकी है जिसके कारण वाहन पंचर तक हो रहे हैं। वहीं नरसिंहपुर से सागर या उसके आगे यह मार्ग एकदम चकाचक है। इससे स्पष्ट हो जाता है कि एनएचएआई के द्वारा मात्र सिवनी जिले में ही भेदभाव किया जा रहा है लेकिन इस ओर किसी भी जिम्मेदार के द्वारा ध्यान ही नहीं दिया जा रहा है।

सिवनी जिले में तो कई स्थानों से सूचना फलक तक नहीं लगाये गये हैं और टोल पूरा-पूरा ही वसूला जा रहा है। सिवनी जिले में फोरलेन की ऐसी बदतर स्थिति होने के कारण उत्तर दिशा से आने वाले वाहन चालकों के लिये अब उनका पसंदीदा मार्ग नरसिंहपुर से छिंदवाड़ा होकर नागपुर की दिशा में जाने का हो गया है। इसके चलते कहा जा सकता है कि सिवनी का अहित ही हो रहा है और अफसोस की बात यह है कि यहाँ के नेतागण संगठन की राजनीति में ही मस्त हैं।

हर्षवर्धन


अगर आपको भी व्यवहारिक जीवन में किसी से कोई शिकायत है और आप उसे सार्वजनिक करना चाह रहे हैं ताकि लोग उस शिकायत को पढ़कर अपनी गलति का अहसास करते हुए उसे न दोहराएं तो
आप व्हाट्स ऐप नंबर 9425175750, 9584647438 या 9300287551 अथवा मेल आईडी samacharagency@gmail.com ,hindgazette@gmail.com पर मेल कर अपनी शिकायत भेज सकते हैं.

15 Views.

Related News

(शरद खरे) समाज शास्त्र में औद्योगीकरण और नगरीकरण को एक दूसरे का पर्याय माना गया है। औद्योगीकरण जहाँ होगा वहाँ.
मौसम में बदलाव का दौर है जारी (महेश रावलानी) सिवनी (साई)। मकर संक्रांति के बाद सूर्य के उत्तरायण होने के.
रतजगा करते हुए कर रहे वोल्टेज बढ़ने का इंतजार (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। लगातार दो तीन वर्षों से अतिवृष्टि और.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। मध्य प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड क्षेत्रीय कार्यालय जबलपुर द्वारा सी.एम. हेल्पलाइन में की गयी शिकायत को.
राजेंद्र नेमा ने स्वामी नारायणानंद के द्वारा शंकराचार्य लिखे जाने पर माँगे प्रमाण (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। भगवत्पाद आद्यशंकराचार्य द्वारा.
आठ फीसदी ब्लो पर हुई निविदा स्वीकृत, भेजा शासन को अनुमोदन के लिये (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। अटल बिहारी वाजपेयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *