सीबीएसई सिंगल गर्ल चाईल्ड को हर माह देगा स्कॉलरशिप

(सतीश जॉनी)

जबलपुर (साई)। सीबीएसई पढ़ने – लिखने में होशियार अपने माता-पिता की इकलौती संतान (बेटी) को सिंगल गर्ल चाईल्ड स्कॉलरशिप योजना के तहत हर माह 500 रुपए की स्कॉलरशिप देने जा रहा है।

इसके लिए ऑनलाइन फार्म भी भरवाए जा रहे हैं, लेकिन योजना की शर्तें ऐसी हैं कि शहर की अधिकांश सिंगल गर्ल चाइल्ड को शायद ही स्कॉलरशिप का लाभ मिल पाए। शर्तों के मुताबिक स्कॉलरशिप उन्हीं बेटियों को मिलेगी जिनकी सीबीएसई स्कूल में मंथली फीस 1500 रुपए से कम हो, लेकिन शहर में संचालित अधिकांश स्कूल ऐसे हैं जिनकी मंथली फीस ही 1500 रुपए से ज्यादा है। ज्यादातर सीबीएसई स्कूल ट्यूशन फीस ही 1550 से लेकर 2000 रुपए तक वसूल रहे हैं। मैनेजमेंट, कम्प्यूटर व दीगर फीस के नाम पर 2200 से 2800 रुपए तक लिए जा रहे हैं।

क्या है योजना

सीबीएसई बोर्ड अपने माता-पिता की इकलौती संतान (बेटी) को सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप योजना के तहत हर माह 500 रुपए की स्कॉलरशिप देगी।

योजना का लाभ लेने के लिए 15 नवम्बर तक सीबीएसई बोर्ड की वेबसाइट में ऑनलाइन फार्म भरने और 30 नवंबर तक हार्ड कॉपी सीधे सीबीएसई मुख्यालय भेजने की तारीख निर्धारित की गई है।

ये है शर्त

सीबीएसई स्कूल से 10वीं की परीक्षा 60 फीसदी (6.2 सीजीपीए) अंकों से पास होना जरूरी है। 11वीं और 12वीं में अध्ययनरत बेटियों को ही स्कॉलरशिप दी जाएगी। अपने माता की इकलौती संतान (बेटी) होना जरूरी है। इसका प्रमाण देना होगा। जिस स्कूल में सिंगल गर्ल्स चाइल्ड पढ़ रही उसकी ट्यूशन फीस 1500 से कम होना जरूरी।



0 Views.

Related News

(शरद खरे) समाज शास्त्र में औद्योगीकरण और नगरीकरण को एक दूसरे का पर्याय माना गया है। औद्योगीकरण जहाँ होगा वहाँ.
मौसम में बदलाव का दौर है जारी (महेश रावलानी) सिवनी (साई)। मकर संक्रांति के बाद सूर्य के उत्तरायण होने के.
रतजगा करते हुए कर रहे वोल्टेज बढ़ने का इंतजार (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। लगातार दो तीन वर्षों से अतिवृष्टि और.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। मध्य प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड क्षेत्रीय कार्यालय जबलपुर द्वारा सी.एम. हेल्पलाइन में की गयी शिकायत को.
राजेंद्र नेमा ने स्वामी नारायणानंद के द्वारा शंकराचार्य लिखे जाने पर माँगे प्रमाण (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। भगवत्पाद आद्यशंकराचार्य द्वारा.
आठ फीसदी ब्लो पर हुई निविदा स्वीकृत, भेजा शासन को अनुमोदन के लिये (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। अटल बिहारी वाजपेयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *