सूर्य जायेंगे पुत्र शनि के घर, जीवन में दिखेगा बेहतर असर

(ब्यूरो कार्यालय)

उज्जैन (साई)। मकर सक्रांति के दिन अद्भुत संयोग बन रहा है। मकर संक्राति के दिन एक-दूसरे के विपरीत रहने वाले शनि और सूर्य का मिलन होगा। भगवान सूर्य मकर सक्रांति के दिन 14 जनवरी को शनि के साथ मकर राशि में एक माह तक रहेंगे। इसके बाद वह शनि के मुख्य राशि ग्रह कुंभ में प्रवेश करेंगे। यहाँ पर भी वह एक माह तक रहेंगे।

इन दोनों पिता-पुत्रों के मिलन से पृथ्वी पर मनुष्यों पर भी बेहतर असर देखने को मिलेगा। 14 मार्च तक पिता और पुत्रों के संबंध बेहतर और मधुर रहेंगे। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, सूर्य के पुत्र शनि हैं, लेकिन इन दोनों में मधुर संबंध नहीं हैं, लेकिन इस बार मकर संक्राति पर माघ मास कृष्णपक्ष प्रयोदशी पर सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करेंगे।

सूर्य के राशि परिवर्तन से ही मकर संक्राति का पर्व मनाया जाता है। मकर संक्राति पर गंगास्नान कर दान पुण्य करने से शुभ-फल प्राप्त होता है। साथ ही इस दिन दान और पुण्य करने से मनुष्यों के पाप भी कम होते है। मान्यता है कि मकर संक्राति के दिन ही पितामाह भीष्म को मोक्ष की प्राप्ति हुई थी। वहीं सूर्य इस समय उत्तरायण में रहते है और खरमास समाप्त होता है।

तीन संयोग से मिलेगा चार गुना फल : मकर संक्राति के अवसर पर सिद्धि योग के साथ ही परिजात योग भी बन रहा है। इनके साथ ही प्रदोष भी बन रहा है। तुला राशि में मंगल और गुरु के होने से परिजात योग बनेगा। इन योग के अंदर दान करने से दान का पुण्यफल चार गुना बढ़ जायेगा।

पहले शनि के साथ, फिर शनि के घर में रहेंगे सूर्य : शनि इस समय मकर राशि में चल रहे हैं। मकर संक्राति से सूर्य मकर राशि में आ जायेंगे। यह दोनों ग्रह मकर राशि में एक माह तक यानी 14 जनवरी से 14 फरवरी तक रहेंगे। इसके बाद सूर्य शनि के घर अर्थात कुंभ राशि में जायेंगे। यहाँ पर वह एक माह तक रहेंगे।

व्यापार के लिये शुभ है शनि और सूर्य का मिलन : मकर संक्राति पर शनि और सूर्य के मिलने से व्यापार में तेजी देखने के लिये मिलेगी। इनके असर पर इलेक्ट्रॉनिक आयटम, सोना, चाँदी, वाहन, शेयर बाजार, दवाईयां आदि चीजों में तेजी देखने को मिलेगी।

गरीबों के लिये बेहतर, उच्च वर्ग के लिये कष्टकारी :

शनि के प्रभाव से गरीब, आदिवासी, अनुसूचित जाति – जनजाति और गरीब लोगों के लिये यह समय बेहतर रहेगा। जबकि धार्मिक गुरुओं, विद्वानों, शिक्षकों, सुरक्षाकर्मियों के लिये यह समय कष्टकारी हो सकता है।



3 Views.

Related News

(शरद खरे) शायद ही कोई ऐसा दिन होता हो जब सिवनी में सड़क दुर्घटना में घायल या मरने वालों की.
स्वास्थ्य विभाग के रंगारंग बसंत पंचमी कार्यक्रम में टूटीं सारी मर्यादाएं! (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। जिला चिकित्सालय परिसर में निर्माणाधीन.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। यूरोप के आधा दर्जन से ज्यादा देशों में पढ़ी जाने वाली स्ट्रेस टू हेप्पीनेस नामक किताब.
मामला मोहगाँव खवासा सड़क निर्माण का, शायद ही कुछ आऊट सोर्स करे दिलीप बिल्डकॉन (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। अटल बिहारी.
(महेश रावलानी) सिवनी (साई)। मौसम में लगातार परिवर्तन जारी हैं। बुधवार से शहर में सर्दी का सितम तेज हो सकता.
40 एकड़ में बनेगा क्रिकेट का विशाल स्टेडियम बींझावाड़ा में (प्रदीप खुट्टू श्रीवास) सिवनी (साई)। सिवनी में वर्षों से क्रिकेट.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *