NIT पटना भर्ती

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनआईटी पटना भर्ती 2017) अनुबंध के आधार पर 03 लैब इंजीनियर, प्रोजेक्ट असिस्टेंट और गेस्ट फैकल्टी के पद के लिए आवेदन आमंत्रित करता है। अगर आप इस भर्ती के इच्छुक हैं तो आप आवेदन करने की अंतिम तिथि 16 नवम्बर 2017 से पहले आवेदन कर सकते हैं।

इस जॉब से जुड़ी जानकारी इस प्रकार है।

पोस्ट नाम: लैब इंजीनियर

रिक्ति की संख्या: 01 पोस्ट

वेतनमान: 34000 / – (प्रति माह)

पोस्ट नाम: प्रोजेक्ट असिस्टेंट

रिक्ति की संख्या: 01 पोस्ट

वेतनमान: 20000 / – (प्रति माह)

पोस्ट नाम: गेस्ट फैकल्टी

रिक्ति की संख्या: 01 पोस्ट

वेतनमान: 40000 / – (प्रति माह)

एनआईटी पटना भर्ती 2018

शैक्षिक योग्यता :

लैब इंजीनियर & प्रोजेक्ट असिस्टेंट के लिए: प्रथम श्रेणी के साथ इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग में बीटेक।

गेस्ट फैकल्टी के लिए: प्रथम श्रेणी के साथ इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग में बीटेक और एम.टेक।

आयु सीमा: नियमों के अनुसार

नौकरी स्थान: पटना (बिहार)

चयन प्रक्रिया: चयन साक्षात्कार पर आधारित होगा।

आवेदन शुल्क: कोई आवेदन शुल्क नहीं है

NIT Patna रिक्ति कैसे आवेदन करें: इच्छुक उम्मीदवार वेबसाइट www.nitp.ac.in से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं

महत्वपूर्ण तिथियाँ:

ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि: 16.11.2017

महत्वपूर्ण लिंक:

विज्ञापन लिंक: http://www.nitp.ac.in/uploads/Recruitment%20of%20Guest%20Faculty%20Lab%20Engineer%20and%20Project%20assistant59fc658360ad6.pdf

ऑनलाइन आवेदन करें: http://www.nitp.ac.in/jrf/index.php

(साई फीचर्स)


 


नोट : आग्रह है कि आप अप्लाई करने से पहले जरूरी है कि संबंधित वेब साईट पर जाकर पूरा नोटिफिकेशन या विज्ञापन जरूर पढ लें पढ़ लें।

0 Views

Related News

(शरद खरे) जिले की सड़कों का सीना रोंदकर अनगिनत ऐसी यात्री बस जिले के विभिन्न इलाकों से सवारियां भर रहीं.
मण्डी पदाधिकारी ने की थी गाली गलौच, हो गये थे कर्मचारी लामबंद (अखिलेश दुबे) सिवनी (साई)। सिमरिया स्थित कृषि उपज.
दिन में कचरा उठाने पर है प्रतिबंध, फिर भी दिन भर उठ रहा कचरा! (अय्यूब कुरैशी) सिवनी (साई)। अगर आप.
सौंपा ज्ञापन और की बदहाली की ओर बढ़ रही व्यवसायिक गतिविधियों को सम्हालने की अपील (ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। सिवनी.
(ब्यूरो कार्यालय) सिवनी (साई)। डेंगू से पीड़ित एस.आई. अनुराग पंचेश्वर की उपचार के दौरान जबलपुर में मृत्यु हो गयी है।.
(आगा खान) कान्हीवाड़ा (साई)। इस वर्ष खरीफ की फसलों में किसानों ने सोयाबीन, धान से ज्यादा मक्के की फसल बोयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *