थोक सब्जी मण्डी जाने से कतरा रहे व्यापारी

 

 

प्रशासन के ढुलमुल रवैये से थोक सब्जी व्यापारियों की चाँदी

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। नगर के मध्य मॉडल रोड पर स्थित थोक सब्जी के कारण हाईवे पर जाम लगने, यातायात व्यवस्था प्रभावित होने व दुर्घटना की आशंका के कारण वर्ष-2009 में पाँच करोड रूपये की लागत से नागपुर नाके के पास तीन हेक्टेयर शासकीय जमीन पर नयी थोक फल व सब्जी मण्डी का निर्माण किया गया था।

विडंबना ही कही जायेगी कि कुछ स्वार्थी लोगों के कारण नगर से थोक सब्जी का स्थानांतरण नहीं हो पा रहा था। कलेक्टर प्रवीण सिंह अढ़ाचय के द्वारा नयी थोक सब्जी मण्डी का मौका मुआयना कर वहाँ पर बोरवेल करवाकर थोक सब्जी मण्डी के स्थानांतरण के निर्देश दिये गये। इससे जागरूक नागरिकों में हर्ष व्याप्त था, लेकिन नगर पालिका प्रशासन के उदासीन रवैये से थोक सब्जी व्यापारी नयी सब्जी मण्डी में जाने में उदासीनता बरत रहे हैं और पुरानी थोक सब्जी मण्डी में जमकर चाँदी काट रहे हैँ।

जाना नहीं चाहते व्यापारी : शनिवार 09 मार्च से कुछ व्यापारियों ने नयी थोक सब्जी में व्यापार चालू कर दिया लेकिन वर्षाें से पुरानी थोक सब्जी मण्डी में काबिज दुकानदारों द्वारा अब भी यहाँ से हटने का नाम नहीं लिया जा रहा है। उल्टा उनके द्वारा यह फैलाया जा रहा है कि जो व्यापारी नयी थोक सब्जी मण्डी में गये हैं वे भी वापिस पुरानी थोक सब्जी मण्डी में लौट आयेंगे। इसको लेकर भ्रम की स्थिति निर्मित हुई है। इन परिस्थितियों के कारण अब भी मॉडल रोड पर जाम लगना आम बात बनी हुई है।

वीरान पड़ा है मछली बाजार : नगर पालिका द्वारा मछली व माँस बिक्री हेतु सर्व सुविधायुक्त कॉम्प्लेक्स नगर पालिका के पीछे बनवाया गया है ताकि फुटकर सब्जी मण्डी सहित अन्य स्थानों पर लगने वाली माँस व मछली की दुकानें एक ही स्थान पर लगें और गंदगी न फैले। उक्त मछली बाजार अब भी वीरान पड़ा है। यहाँ पर असामाजिक तत्वों का जमघट लगता है जिनके द्वारा यहाँ की टाईल्स आदि को नुकसान पहुँचाया जा रहा है। समय रहते मछली व माँस की दुकानों को यहाँ शिफ्ट करने की माँग जागरूक नागरिकों ने कलेक्टर से की है।

फुटकर सब्जी बाजार में कब्जा : नगर के फुटकर सब्जी बाजार में कहने को तो 400 से अधिक चबूतरे हैं लेकिन उन पर मात्र 56 लोगों ने कब्जा जमा रखा है जिसके कारण फुटकर सब्जी विक्रेताओं के द्वारा मॉडल रोड के किनारे व सब्जी बाजार के प्रवेश द्वार पर सब्जी की दुकानें लगाकर आवागमन को उनके द्वारा बाधित किया जा रहा है। इसके कारण यहाँ पर भी दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है। नागरिकों ने फुटकर सब्जी मण्डी के चबूतरे अन्य सब्जी विक्रेताओं को आवंटित करने व मछली बाजार को यहाँ से हटाने की माँग कलेक्टर से की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *