तूफान के साथ बारिश, ओलों ने बरपाया कहर

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। अचानक बिगड़े मौसम के बाद रविवार को जिले के लखनादौन विकास खण्ड के आधा दर्जन गाँव और बरघाट विकास खण्ड के तीन गाँवों में हुई ओला वृष्टि से फसलें तबाह हो गयी हैं। किसानों के मुताबिक ओला वृष्टि से फसलें खेतों में बिछ गयी हैं। इसके अलावा जिले के अन्य विकास खण्डों में तेज हवा तूफान के साथ बारिश हुई। बारिश से मौसम में ठण्डक आ गयी है।

15 मिनिट हुई ओला वृष्टि : प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के लखनादौन क्षेत्र अंतर्गत घूरवाड़ा, सुक्कम, लिंगपानी, घोघरी सहित एक दर्जन गाँवों में रविवार शाम 04 बजे से साढ़े 04 बजे के बीच लगभग 15 मिनिट तक बेर के आकार के ओले गिरे। बरघाट विकास खण्ड के अरी, सुकला और गुर्रापाठा में लगभग 10 मिनिट बेर के आकार के ओले गिरे। अरी क्षेत्र में तेज हवा, तूफान व बारिश के साथ ओले गिरे।

50 फीसदी नुकसान : जिले के लखनादौन क्षेत्र के आधा दर्जन गाँवों में हुई ओला वृष्टि से चना, गेहूँ की फसल को 50 फीसदी नुकसान होने के बाद किसानों ने कही है। ग्राम पंचायत सुक्कम मोहगाँव की सरपंच प्यारी बाई और लिंगपानी पंचायत सरपंच लक्ष्मी बाई ने बताया है कि ओला वृष्टि से किसानों की फसलों को नुकसान हुआ है। क्षेत्र के किसानों ने प्रशासन से नुकसानी का जल्द से जल्द सर्वे कराकर मुआवजा दिलाये जाने की माँग की है।

गाज गिरने से एक मृत : बताया जाता है कि मुंगवानी रोड स्थित तिघरा गाँव में आसमानी बिजली गिरने से एक किसान की मौत हो गयी। लखनवाड़ा थाना में पदस्थ एस.आई. देवकरण डहेरिया ने बताया है कि तिघरा गाँव निवासी मस्त राम (52) पिता काशीराम बघेल रविवार शाम खेत में चने की फसल को व्यवस्थित कर रहे थे।

इसी दौरान आसमानी बिजली गिरने से वे बुरी तरह झुलस गये। गंभीर अवस्था में मस्तराम को ईलाज के लिये जिला अस्पताल लाया गया जहाँ डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। अरी के पास उसरी गाँव में आसमानी बिजली गिरने से अशोक पिता फूलचंद बघेल के घर के बाहर बिजली गिरने से बैल की मौत हो गयी।

जिले के धूमा सहित अधिकांश क्षेत्रों में किसानों ने चना और मसूर की फसल की कटाई कर ली है। काटी गयी फसल खलिहान में खुले आसमान के नीचे रखी है। रविवार शाम हुई बारिश से धूमा क्षेत्र में अनेक किसानों की खुले में रखी मसूर व चना की फसल भीगने से नुकसान की बात किसानों ने कही है।

तेज हवाओं के साथ बारिश : मुख्यालय सहित आसपास के क्षेत्रों में रविवार शाम लगभग 05 बजे तेज हवा व तूफान के साथ बारिश हुई। मुख्यालय में लगभग 10 मिनिट तक हल्की बारिश हुई। बरघाट में शाम साढ़े 05 बजे आधे घण्टे तेज बारिश दर्ज की गयी। लखनादौन, आदेगाँव, धूमा, पलारी, मुंगवानी, कुरई सहित आसपास के इलाकों में हल्की बारिश हुई।

चमारीखुर्द में हल्की बारिश : रविवार शाम साढ़े चार बजे चमारी खुर्द में बारिश हुई। बारिश के पहले तेज हवाएं भी चलीं। लगभग 15 मिनिट हुई बारिश ने मौसम में ठण्डक घोल दी। बारिश ज्यादा देर न होने के चलते फसलों को कोई नुकसान नहीं हुआ। किसानों में प्रभात सिंह ठाकुर, ललित शर्मा आदि ने बताया कि इस समय खेतों में गेहूँ व चना की फसल कटने की कगार पर है। ऐसे में यदि ज्यादा देर बारिश होती है या ज्यादा देर तेज हवाएं चलती हैं तो फसलों को बहुत अधिक नुकसान हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *