डकैती करने नंगे पैर पहुंचे थे नकाबपोश फिर . . .

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। कोलार की प्रियदर्शनी प्रेसटीन कवर्ड कैंपस में हथियारबंद छह बदमाशों ने तीन मकानों में डकैती डालने की कोशिश की है। वे नंगे पैर थे और चेहरे पर नकाब लगाए थे। एक मकान मालिक की नींद खुलने और शोर मचाने पर वे भाग गए। इस दौरान वे एक घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए हैं। घटना गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात की है। खास बात है कि घटना के समय कॉलोनी में दो गार्ड थे पर उन्हें बदमाशों की भनक तक नहीं लगी। पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कोलार पुलिस के मुताबिक सलैया गांव के पीछे राजीव गांधी कॉलेज के पास प्रियदर्शनी प्रेसटीन कवर्ड कैंपस कॉलोनी है। इस में करीब पचास परिवार रहते हैं। कॉलोनी की सुरक्षा के लिए रात में दो गार्ड हैं। इसके बावजूद गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात करीब डेढ़ से ढाई बजे के बीच नकाबपोश हथियारबंद छह बदमाश कॉलोनी के अंदर दाखिल हो गए। बदमाशों ने एमपीईबी इंजीनियर प्रणव नेमा के मकान की खिड़की तोड़ना शुरू की। कांच टूटकर नीचे गिरा, जिससे नेमा की नींद खुल गई। उन्हें कुछ अंदेशा हुआ। उन्होंने शोर मचाया तो सभी बदमाश फरार हो गए।

इस तरह वारदात करने की कोशिश की

घटना के बाद कालोनी के रहवासियों ने सीसीटीवी कैमरे के फुटेज चेक किए। इससे पता चला कि बदमाशों ने सबसे पहले मैकेलाइट कंपनी के मैनेजर आलोक श्रीवास्तव के घर में घुसने का प्रयास किया, लेकिन वह सफल नहीं हो सके। यहां से बदमाश राजवीर सिंह के मकान पर पहुंचे, लेकिन कुछ शंका के चलते बदमाशों ने वारदात को अंजाम नहीं दिया। इसके बाद प्रणव नेमा के मकान पर बदमाश पहुंचे थे।

One thought on “डकैती करने नंगे पैर पहुंचे थे नकाबपोश फिर . . .

  1. Pingback: Dank Carts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *