आज पूरी शक्ति वाले एफएम से बोध सिंह करेंगे मन की बात!

 

 

होली के दिन से सिवनी में आरंभ हो जायेगा एफएम रेडियो स्टेशन, दो माह में सिवनी में सुनायी देगी ब्रॉडगेज की सीटी!

(होली ब्यूरो)

सिवनी (साई)। अंततः बालाघाट के सांसद बोध सिंह भगत ने केंद्र सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय से सिवनी की झोली में एफएम रेडियो के रिले सेंटर की सौगात दिलवाने में सफलता हासिल कर ली है। बुधवार और ब्रहस्पतिवार की दरमियानी रात से सिवनी में पूरी शक्ति वाले ट्रांसमीटर्स के जरिये एफएम रेडियो से प्रसारण की टेस्ंिटग के बाद ब्रहस्पतिवार से यह काम करना आरंभ कर देगा।

ज्ञातव्य है कि सिवनी में आकाशवाणी केंद्र की माँग काफी समय से की जा रही थी। इसके लिये पूर्व विधायक नरेश दिवाकर के द्वारा भी केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री से पत्राचार किया जा चुका है। सांसद बोध सिंह भगत के द्वारा इस दिशा में विशेष प्रयास किये गये हैं।

बोध सिंह भगत के करीबी सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि लोक सभा चुनाव की आचार संहिता के लगने के पहले बोध सिंह भगत के द्वारा केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के उच्चाधिकारियों को अल्टीमेटम दे दिया था कि किसी भी हालत में सिवनी में एफएम के 100 मेगा वाट के ट्रांसमीटर का काम मार्च माह में पूरा कर लिया जाये।

सूत्रों की मानें तो इस मामले में सूचना प्रसारण मंत्रायल के अधिकारियों के द्वारा हीला हवाला किये जाने पर बोध सिंह भगत के द्वारा अधिकारियों की जमकर क्लास भी ली गयी थी। इसके परिणाम स्वरूप 20 एवं 21 मार्च की मध्य रात्रि में इस रिले सेंटर का परीक्षण किया जाकर 21 मार्च की सुबह से यह काम आरंभ कर देगा।

सूत्रों ने यह भी बताया कि बोध सिंह भगत के द्वारा केंद्रीय रेल मंत्रालय के अधिकारियों और रेल्वे बोर्ड के मेम्बरान को भी दो टूक शब्दो में ये निर्देश दिये हैं कि वे मई माह के अंत तक सिवनी में ब्रॉडगेज का न केवल काम पूरा करें वरन इस पर रेल चलाकर इसका परीक्षण भी करवायें।

सूत्रों की मानें तो इस काम को भी प्राथमिकता के आधार पर कराया जा रहा है। सूत्रों ने उम्मीद जतायी है कि जून माह से ब्रॉडगेज के नक्शे में सिवनी भी उस समय जुड़ जायेगा जब नैनपुर से छिंदवाड़ा तक के रेल खण्ड का काम पूरा किया जाकर इस पर माल गाडियों के बाद सवारी गाड़ियों को भी दौड़ाना आरंभ कर दिया जायेगा।

सूत्रों ने बताया कि सांसद के द्वारा किये गये प्रयासों के बारे मेें विस्तार से इसलिये नहीं बताया जा सकता है क्योंकि लोकसभा चुनावों की आचार संहिता प्रभावी है। सूत्रों ने यह भी कहा कि बोध सिंह भगत पाँच सालों तक सिवनी जिले की किस्मत चमकाने में इतने मशगूल रहे कि उन्हें इस बात की फुर्सत नहीं मिल पायी कि वे जनता को बता सकें कि उनके द्वारा जिले के विकास के लिये क्या – क्या कार्य किये गये हैं। (हो.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *