परंपरागत उत्साह से मना भाई दूज

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। होली के बाद भाईदूज का पर्व परंपरागत उत्साह के साथ मनाया गया। कायस्थ समाज के लोगों के द्वारा इस दिन भगवान चित्रगुप्त का पूजन अर्चन किया गया।

रंगों के पर्व होली के दूसरे दिन जिले भर में गोवर्द्धन पूजा की गयी। मंगल कामना के साथ ही श्रद्धा और भक्ति की झलक देखने को मिली। वहीं ब्रहस्पतिवार को महिलाओं ने होली भी खेली। इसके अलावा भाईदूज की परम्परा का निर्वहन किया। शहर समेत जिले के सभी ग्राम क्षेत्रों में ब्रहस्पतिवार को होली खेलने के साथ ही अन्य धार्मिक परंपराओं का भी निर्वहन किया गया। इसके साथ ही मुख्यालय समेत ग्रामीण अंचलों में भी भाईदूज का पर्व पूरे उत्साह से मनाया गया।

इस अवसर पर बहनों ने भाईयों का तिलक वंदन किया एवं आरती उतारकर दीघार्यु की कामना की। भाई दूज का कार्यक्रम दिन भर चलता रहा। बहनों के घर भाईयों का आना, जाना रहा। भाईयों के मस्तक पर कुमकुम का टीका शोभित होता रहा। इसके अलावा सुबह के समय घरों में गोवर्द्धन पूजा की गयी। पूजा में घर की सभी महिलाओं ने भाग लेकर इस परंपरा का निर्वहन किया।