शाला प्रबंधन एवं विकास समिति की कार्यशाला संपन्न

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान अंतर्गत शाला प्रबंधन एवं विकास समिति की कार्यशाला विगत दिवस मिशन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिवनी में संपन्न हुई।

इसमें जिले के समस्त शासकीय हाई स्कूल, उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों के प्राचार्य एवं सदस्य उपस्थित हुए। बैठक में शाला अंतर्गत होने वाले विभिन्न गतिविधियों पर विस्तार से जानकारियां दी गयीं। कैश बुक, लेजर, बाउचर फाईल रख रखाब सहित, जेम पोर्टल के माध्यम से खरीदी संबंधी प्रक्रिया के बारे में लेखापाल द्वारा बताया गया।

इस अवसर पर अर्पित अग्रवाल ने आय व्यय संबंधी आडिट की जानकारियां उपस्थित समस्त प्राचार्यों एवं सदस्यों को बिन्दुवार समझाते हुए शाला विकास में अधिक से अधिक राशि नियमानुसार व्यय करने की बात कही। जिला शिक्षा अधिकारी जी.एस. बघेल ने गुणवत्ता युक्त शिक्षण पर 01 अप्रैल से प्रारंभ होने जा रहे शैक्षणिक सत्र में अध्यापन कार्य कराने एवं भयमुक्त शिक्षा व्यवस्था देने की बात कही।

उन्होंने कहा कि समस्त प्राचार्य अपनी अपनी संस्थाओं में स्कूल चलें अभियान अंतर्गत अधिक से अधिक छात्र – छात्राओं को प्रवेश दिलायें। संस्था का वातावरण स्वच्छ सुन्दर रखते हुए सभी प्राचार्यों से नये सत्र में अच्छा परीक्षा परिणाम लाने की अपील की। उन्होंने कहा कि जो शालाएं 05 अप्रैल से 15 अप्रैल तक आयोजित कैरियर मेले में अच्छा कार्य करेंगी, उन्हें पुरूस्कृत किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि पुस्तकालय, खेलकूद, बाल सभा, प्रायोगिक कार्य सांस्कृतिक गतिविधियां, शालाओं में नियमित रूप से करायी जायें। स्वच्छ पेयजल एवं शौचालय की व्यवस्थाओं पर भी ध्यान देने की बात कही गयी। साथ ही छात्रवृत्ति संबंधी समस्त कार्य भी समय सीमा में किये जाने के लिये कहा गया।

एडीपीसी महेश गौतम ने राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान अंतर्गत आयोजित होने वाली विभिन्न गतिविधियों के बारे में सभी को अवगत कराया। कार्यशाला के अंत में सभी प्राचार्यों को स्वीप प्लान अंतर्गत शपथ दिलायी गयी। कार्यशाला में जिले के लगभग 450 प्राचार्य एवं सदस्य उपस्थित थे।