निजि स्कूल नहीं दे रहे प्रवेश तो करें मिस्ड कॉल

 

 

आरटीई के तहत की गयी अभिनव पहल

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। शिक्षा का अधिकार कानून (आरटीई) के तहत कमजोर वर्ग के बच्चों को दाखिला देने से शाला संचालक अगर बच रहे हैं या फिर प्रवेश प्रक्रिया की जानकारी ही नहीं दे रहे हों तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। अभिभावक घर बैठे ही एक मिस्ड कॉल कर आरटीई से जुड़ी प्रवेश प्रक्रिया की पूरी जानकारी ले सकेंगे।

इस दौरान यदि कोई समस्या आ रहीं तो वह भी बतायें उसका तत्काल निराकरण किया जायेगा। दरअसल आरटीई के तहत निजि स्कूलों की 25 प्रतिशत रिजर्व सीट पर कमजोर वर्ग के बच्चों को शत प्रतिशत प्रवेश दिलाने के लिये स्कूल शिक्षा विभाग ने इस बार हेल्प लाईन नम्बर (011 – 3958 9100) जारी किया है। इस पर एक मिस्ड कॉल करके अभिभावक आरटीई की पूरी जानकारी ले सकेंगे और शिकायत, समस्या भी बता सकेंगे।

अप्रैल में आरंभ होगी प्रवेश प्रक्रिया : आरटीई के तहत प्रवेश की प्रक्रिया अपै्रल से आरंभ होगी। अभी स्कूलों से बसाहट के आधार पर आरटीई के तहत 25 प्रतिशत रिजर्व सीटें आरटीई पोर्टल पर लॉक करायी जा रही हैं।

अभिभावकों को नहीं लगाने पड़ेंगे चक्कर : अभिभावकों को प्रवेश के लिये जिला शिक्षा केन्द्र या ब्लॉक को-ऑर्डिनेटर (बीआरसी) या स्कूलों के चक्कर भी नहीं लगाने पड़ेंगे, क्योंकि मिस्ड कॉल करने पर स्कूल शिक्षा विभाग की और से तुरंत ही रिटर्न कॉल आयेगा।

फोन पर ही आरटीई के तहत प्रवेश प्रक्रिया की जानकारी ले सकेंगे। यदि कोई समस्या है तो वह भी दर्ज करा सकेंगे। संबंधित शिकायत जिला शिक्षा केन्द्र को ट्रांसफर कर उसका त्वरित समाधान कराया जायेगा।

इसलिये जारी किया नंबर : बताया जाता है कि निजि स्कूल के संचालकों के द्वारा अभिभावकों को आरटीई की जानकारी नहीं दी जाती है। इसके अलावा शिक्षा विभाग के अधिकारियों के द्वारा भी इस योजना में ज्यादा दिलचस्पी नहीं लिये जाने से इस योजना को आरंभ किया गया है।

वहीं, शुक्रवार तक जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के द्वारा इस आशय की जानकारी न तो मीडिया के जरिये सार्वजनिक करायी गयी है और न ही अन्य साधनों से ताकि गरीब बच्चों के अभिभावकों तक इस योजना की जानकारी पहुँचे और वे इसका लाभ ले सकें।