आखिकार नकली किन्नर चढ़े पुलिस के हत्थे!

 

 

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (साई)। डूण्डा सिवनी पुलिस ने एक माह पहले नकली किन्नरों के द्वारा एक महिला के साथ की गयी लूट का खुलासा करते हुए दो आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। पुलिस के अनुसार आरोपी नाथ संप्रदाय से जुड़े हैं जो बहुरूप धरने में माहिर होते हैं।

पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित पत्रकार वार्ता में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल खाण्डेल ने बताया कि फरवरी माह की 26 तारीख को दो अज्ञात व्यक्ति किन्नरों के भेष में बबरिया कोहका स्थित अधिवक्ता शिवनंदन पटेल के घर पहुँचे थे। घर में उनकी पत्नि अकेली थी। इन आरोपियों ने महिला से पहले तो नैंग लिया और उसके बाद वे और भी राशि की माँग करने लगे। इस बीच उन्होंने महिला के अकेले रहने का अंदाजा लगा लिया और वे महिला के शरीर में पहने मंगलसूत्र, अंगूठी, चैन्स लटकन, कनछड़ी आदि लेकर फरार हो गये।

साईबर सेल की ली मदद : उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामले को सुलझाने के लिये साईबर सेल की मदद ली और घटना के वक्त उस क्षेत्र के मोबाईलों को तलाशा जिसके बाद पुलिस को जानकारी मिली कि इन आरोपियों के मोबाईल धार जिले में सक्रिय हैं।

गोपाल खाण्डेल के अनुसार पुलिस ने इसके बाद धार जिले के सादलपुर में एक आरोपी लक्ष्मण पिता वीरूनाथ और उसके एक नाबालिग साथी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने लूट में इस्तेमाल की गयी चार पहिया सेलेरियो वाहन को भी जप्त कर लिया। इसके साथ ही लूटे गये सामान जिसकी कीमत एक लाख दस हजार रूपये को भी बरामद कर लिया गया है।

जिले में नहीं होती दर्ज मुसाफिरी : जिले में इन दिनों किरायेदारों और बाहर से आये लोगों का रिकॉर्ड नहीं रखा जा रहा है, जिसका परिणाम है कि अपराध होने के बाद आरोपियों को तलाशने में पुलिस को काफी मशक्कत करना पड़ता है। जिले में इन दिनों पंजाब हरियाणा से बड़ी संख्या में हार्वेस्टर और उसके साथ कर्मचारी आये हुए हैं। इसके साथ ही बड़ी संख्या में फेरी वाले आदि आये हुए हैं। जिला बीते दिनों काफी संवेदनशील रहा है। ऐसे में किसी घटना के अचानक हो जाने से इंकार नहीं किया जा सकता है।