स्कूल खुला और हो गया बंद!

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिला मुख्यालय से महज 14 किलो मीटर दूर ग्राम ग्राम पंचायत जमुनिया के शासकीय प्राथमिक शाला में शनिवार को दोपहर लगभग सवा बारह बजे ही ताला बंद कर दिया गया, जबकि विभाग व अधिकारियों के स्पष्ट निर्देश हैं, कि निर्धारित समय तक शाला संचालित होना चाहिये।

इस मामले में सिवनी बीआरसीसी से जब पूछा गया तो उन्होंने संबंधित प्रधान पाठक के प्रति खासी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि यदि तय समय से पहले ताला लगाया गया है, तो निश्चित तौर पर कार्यवाही की जायेगी।

उक्त शाला भवन में जब ताला लटकता देखा गया और जब इस मामले में संबंधित प्रधान पाठक एम.एल. सनोडिया से मोबाईल पर जानकारी चाही गयी तो उन्होंने कहा कि स्थानीय परीक्षा का परिणाम घोषित करने स्कूल गये थे और इसके बाद ताला लगाकर चले गये। जबकि विद्यार्थियों और अभिभावकों का कहना है कि प्रधान पाठक व शिक्षक आये थे और कुछ ही देर में यह कहकर चले गये कि 01 अपै्रल को अंक सूची दी जायेगी।

शिक्षकों की मनमानी से शिक्षा पर असर : इस शासकीय शाला के पूर्व पालक शिक्षक संघ अध्यक्ष हरि सिंह प्रजापति ने बताया कि यहाँ शिक्षकों की मनमानी का आलम हमेशा से रहा है। समय पर शाला न पहुँचना, तय समय से पहले छुट्टी देकर चले जाना और पढ़ाने की बजाय मोबाईल पर ही लगे रहने जैसी शिकायतें कलेक्टर, डीइओ, बीआरसीसी तक लिखित एवं मौखिक की गयी हैं, लेकिन न तो कोई कार्यवाही हुई और न ही यहाँ की व्यवस्था में कोई सुधार आ सका है। यहाँ के विद्यार्थियों की शिक्षा का स्तर भी बेहतर नहीं होने के पीछे इन्हीं शिक्षकों की मनमानी को दोषी ठहराया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *