पुलिस की गिरफ्त में आई शातिर ‘दुल्हन’

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। बुंदेलखंड के पिछड़े इलाकों में दुल्हनों को बेचने का धंधा किस कदर जोरों पर है, इसका खुलासा पुलिस की गिरफ्त में सपना नाम की एक शातिर दुल्हनके आने से हुआ है। यह महिला शादी के बाद गहने और कैश लेकर फरार हो जाती थी। छत्तरपुर जिले के छोटे व्यापारी सुनील गुप्ता उसके ताजे शिकार बने।

पुलिस ने एक ऐसे गैंग का भंडाफोड़ किया जो पूरे बुंदेलखंड में शादी के लिए लड़कियां सप्लाई करता था। यह इलाका अपने खराब लिंगानुपात के लिए जाना जाता है। पुलिस के मुताबिक, छत्तरपुर के रहने वाले व्यापारी सुनील गुप्ता ने एक स्थानीय निवासी चंदू को अपनी शादी करने की इच्छा के बारे में बताया। चंदू और उसके साथी गोलू ने सुनील को सागर के रहने वाले राहुल से मिलवाया।

केस के जांच अधिकारी वीरेंद्र परस्ते ने कहा कि राहुल ने सुनील से वादा किया कि वह उसे दुल्हन दिला देगा, मगर 1 लाख रुपये का खर्चा आएगा। पुलिस ने बताया, ‘इन्होंने 95 हजार रुपये में डील फाइनल की। इसमें से राहुल और सपना ने 50 हजार रुपये आपस में बांट लिए, बाकी के 45 हजार अन्य दोनों लोगों ने बांट लिए।

यहां बेहद कम है लिंगानुपात

राष्ट्रीय लिंगानुपात 1000 लड़कों पर 940 लड़कियों के उलट यहां हालत बेहद गंभीर है। छत्तरपुर में यह औसत सबसे कम 893 है। इसलिए इस इलाके में दुल्हन मुहैया कराने वाले गैंग और मध्यस्थों का राज है। यह गैंग ओडिशा से लड़कियां लाकर उनकी यहां शादी करवाता है।

खुद को भाई बताकर ठग दुल्हन से मिलवाया

सुनील के मामले में राहुल ने खुद को सपना का भाई बताया और उसे सुनील से मिलवाया। पुलिस ने बताया कि 4 मार्च को सपना और सुनील की शादी हो गई। शादी के बाद राहुल अपनी बहनसपना की ससुराल में ही रुका रहा, मगर 6 मार्च को ये दोनों घर से गायब हो गए। दोनों अपने साथ घर में रखे सोने और चांदी के जेवर भी लेकर फरार हो गए।

7 thoughts on “पुलिस की गिरफ्त में आई शातिर ‘दुल्हन’

  1. Pingback: robotic testing
  2. Pingback: td easyweb login
  3. Pingback: go to this website

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *