24 जिलों में लू का खतरा

 

 

 

 

इन 5 बातों का रखें ध्यान

(ब्‍यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। मध्यप्रदेश में अप्रैल के शुरुआती सप्ताह में ही तापमान लोगों को परेशान करने लगा है। मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश के सागर, होशंगाबाद, इंदौर और उज्जैन संभागों के जिलों में लू चलने की आशंका व्यक्त की है। इन संभागों में 24 जिले हैं, जहां लू चलने की भविष्यवाणी की गई है। इसी के साथ मौसम विभाग ने लू से बचने के पांच तरीके भी अपनाने की सलाह दी है।

मध्यप्रदेश में बीते 24 घंटों के दौरान दमोह, सागर, गुना, रतलाम एवं शाजापुर जिले में लू का प्रभाव रहा। मध्यप्रदेश में ज्यादातर जिलों का तापमान 40 डिग्री के पार चले गया है, जबकि प्रदेश में सर्वाधिक तापमान खरगौन का रहा, यहां 43 डिग्री तापमान रिकार्ड किया गया।

पिछले तीन दिनों से हल्की राहत दे रही गर्मी ने फिर तेजी पकड़ ली है। अप्रैल में पहली बार बुधवार को शहर का तापमान 40 डिग्री पर पहुंच गया। वहीं रात का तापमान लगातार गर्म बना हुआ है, जिसके चलते शहवासियों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विशेषज्ञों ने गर्मी बढ़ने के लिए पश्चिमी हवाओं के दोबारा सक्रिय होने को कारक बताया और आगामी 24 घंटे में तापमान के कुछ और ऊपर चढ़ने का अनुमान व्यक्त किया है।

मंगलवार रात से ही गर्मी के तेवर तीखे होने लगे थे, बुधवार सुबह न्यूनतम तापमान मंगलवार के मुकाबले आधा डिग्री बढ़कर 20.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो सामान्य से एक डिग्री अधिक रहा। शाम तक लगातार तीखी धूप पड़ने के चलते तापमान में तेजी आई और यह मंगलवार के 39 डिग्री के मुकाबले 1.3 डिग्री बढ़कर 40.4 डिग्री के बिंदू पर पहुंच गया। यह सामान्य से 3.7 डिग्री अधिक रहा। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक राजस्थान की ओर से आ रही पश्चिमी हवाओं के असर के साथ सीधी पड़ रही धूप के असर से तापमान में बढ़ोतरी हो रही है। आगामी दिनों में इसके बढ़ने के आसार हैं।

उधर, निमाड़ क्षेत्र के खंडवा जिले से खबर है कि यहां उत्तर-पश्चिमी हवाओं का रुख बदलते ही शहर के तापमान में एक बार फिर उछाल आ गया है। बुधवार को दोबर में सूरज की तल्ख किरणों ने लोगों को झुलसाया। वहीं गर्म हवाओं के थपेड़ों से लोग परेशान रहे। शाम के समय उमसभरी गर्मी से लोग पसीने से तबरतर हुए। बुधवार को शहर का अधिकतम तापमान 42.1 डिग्री और न्यूनतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *