नेक टीम के आने पर बेहतर प्रबंधन में जुटा अमला

 

15 को बैंगलुरू से नेक टीम आयेगी मूल्यांकन हेतु

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। नगर का सरकारी कॉलेज किस स्तर का है, इसका पता लगाने के लिये 15 अप्रैल को बैंगलुुरु की राष्ट्रीय प्रत्यायन एवं मूल्यांकन समिति (नेक) छपारा पहुँचेगी।

कमेटी के मूल्यांकन के बाद ही ज्ञात हो पायेगा कि कॉलेज किस ग्रेड में है। महाविद्यालय के प्रोफेसर एवं नेक समन्वयक डॉ.एस.आर. बेलवंशी ने बताया कि समिति सुबह 10 बजे पहुँचेगी जो छपारा महाविद्यालय हेतु महत्वपूर्ण नेक की पात्रता को लेकर महाविद्यालय अवलोकन कर मूल्यांकन करेगी। इसके बाद नेक टीम के द्वारा समीक्षा कर महाविद्यालय को ए, बी और सी में से ग्रेड दिये जायेंगे।

टीम आने पर सुधार में जुटा प्रबंधन : नेक टीम के आने की खबर के बाद कॉलेज प्रबंधन सुधार और अन्य व्यवस्थाओं में लगा है। अभी तक यहाँ पर अव्यवस्था का आलम था। यहाँ तक कि पानी और अन्य संसाधनों का भी अभाव था। अब टीम के आने पर प्रबंधन में खलबली मच गयी है। महाविद्यालय के प्राचार्य श्री झारिया के नेक में रजिस्ट्रेशन के लिये प्रयास किये गये। सोमवार 15 अप्रैल को टीम महाविद्यालय को परखेगी और छपारा महाविद्यालय का ग्रेड सुनिश्चित करेगी।

तभी मिलेगा अच्छा ग्रेड : ज्ञातव्य है कि नेक पंजीबद्धता प्रक्रिया में महाविद्यालय सफलता प्राप्त करता है तो यह महत्वपूर्ण उपलब्धि होगी क्योंकि अध्यापन की गुणवत्ता अध्यापन सामग्री एवं महाविद्यालय के संसाधनों पर निर्भर करते हैं। पंजीबद्धता प्रक्रिया में महाविद्यालय को ग्रेड मिलने पर राष्ट्रीय स्तर की शिक्षा के लिये क्षेत्रीय छात्र – छात्राओं को दूरस्थ शहरों में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। बुधवार को को महाविद्यालय में भूतपूर्व छात्र जन भागीदारी समिति के सदस्य से बैठक कर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.जी.पी. झारिया ने सभी को यहाँ पर आने को कहा है।