समिति खुद भी करें गेहूं का परिवहन

 

 

 

 

ट्रांसपोर्टर ज्यादा संख्या में लगाएं ट्रक

(ब्‍यूरो कार्यालय)

जबलपुर (साई)। दस दिन के भीतर सभी खरीदी केंद्र से गेहूं गोदाम तक भेज दिया जाना चाहिए। यदि ऐसा नहीं हुआ तो समिति और ट्रांसपोर्टर के खिलाफ कार्रवाई होगी। यह निर्देश मंगलवार को सुबह की पाली में निरीक्षण के दौरान कलेक्टर छवि भारद्वाज ने दिए।

कलेक्टर ने पाटन और शहपुरा के आधा दर्जन से ज्यादा खरीदी केंद्रों का जायजा लिया। उन्हें बड़ी मात्रा में केंद्रों पर गेहूं रखा मिला। जिसके बाद उन्होंने समितियों के स्तर पर भी गेहूं परिवहन करने और ट्रांसपोर्टर ट्रक की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। निरीक्षण में अपर कलेक्टर डॉ. सलोनी सिडाना और जिला आपूर्ति नियंत्रक सीएस जादोन सहित अन्य अधिकारी भी थे।

यहां पहुंची कलेक्टर

ज्यादा मात्रा में गेहूं की आवक को ध्यान में रखकर गोदाम को सुबह 7 बजे से खोलने व हम्मालों की संख्या बढ़ाने कहा गया। कलेक्टर सबसे पहले आरछा खरीदी केंद्र पहुंची और इसके बाद नुनसर, उड़ना मेढ़ी, सरौंद और बेलखेड़ा के केंद्रों का निरीक्षण भी किया। उन्होंने ज्यादा मात्रा में स्टाक करके रखे गेहूं को लेकर अफसरों को फटकार भी लगाई। समितियों को परिवहन करने कहा गया। परिवहन में आने वाला खर्च विपणन संघ की तरफ से दिया जाएगा।

परिवहन के साथ-साथ गोदामों में गेहूं भंडारण में भी तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि अनुबंधित गोदामों की भंडारण क्षमता का पूरा उपयोग कर लिया गया हो तो खरीदी केंद्र के नजदीक साइलो कैप तक गेहूं भंडारित किया जाए।