विमला दीदी राजनीति में शुचिता की पाठशाला

 

 

प्रदेश के पूर्व मंत्री डॉ.बिसेन ने दी विमला वर्मा को श्रृद्धांजलि

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। विमला दीदी राजनीति में शुचिता की पाठशाला थीं। जो लोग राजनीति को जनसेवा का माध्यम मानते हैं, उनके लिये विमला दीदी का संपूर्ण जीवन प्रेरणा की पुस्तक है। विमला दीदी जिले का गौरव थीं। उनका निधन जिले के लिये एक ऐसी अपूर्णीय क्षति है जिसने जिले के राजनीतिक क्षितिज में एक शून्य उत्पन्न कर दिया है।

उक्त आशय की बात पूर्व मंत्री व वरिष्ठ भाजपा नेता डॉक्टर ढाल सिंह बिसेन द्वारा सुश्री विमला वर्मा के निधन पर अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कही गयी।

डॉ.बिसेन ने कहा कि विमला दीदी का जीवन जितना ईमानदारी से परिपूर्ण था उतना ही वे कार्यों के प्रति समर्पित थीं। उनकी प्रशासनिक क्षमता अद्भुत थी जिसके बल पर उन्होंने जिले के विकास कार्यों को अंजाम तक पहुँचाने में सफलता पायी। जिले के विकास में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। वे राजनीतिक क्षेत्र में सिवनी जिले की पहचान थीं।

डॉ.बिसेन ने कहा कि बरघाट विधानसभा के विधायक के रूप में विकास योजनाओं को बनाने और उन्हें धरातल पर किस तरह उतारा जाये, यह उन्होंने विमला दीदी की कार्यशैली से सीखा है। उन्होंने कहा कि आज वे हमारे बीच नहीं हैं लेकिन उनके जीवन काल से हमें हमेशा सीखने की प्रेरणा मिलती रहेगी। उन्होंने कहा कि हम स्वयं एवं अपने परिवार की ओर से श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि वे उन्हें अपने श्री चरणों में स्थान दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *