परंपरा के नाम पर मां-बाप बेचते हैं बेटियां

 

 

 

 

खुलेआम लगती है मंडी

इस शहर में लड़कियों का खुलेआम सौदा होता है। इसे यहां प्रथा माना जाता है। यहां मां-बाप अपनी ही बेटियों के लिए ग्राहक ढूंढ़ते हैं। दरअसल ऐसा उनकी शादी ( Marriage ) करने के लिए किया जाता है।

ये अजीबो-गरीब प्रथा यूरोप ( Europe ) के एक समुदाय में प्रचलित है। और तो और ग्राहक ढूंढ़ने के लिए खास तौर पर बाजार ( market ) लगता है।

जानकारी के अनुसार- लड़किया भी इस प्रथा के लिए सहमत होती हैं। इस प्रथा को वे अपने लिए अच्छा वर खोजने का बेहतर जरिया मानती हैं। जिस जगह पर यह बाजार सजता है, उसका नाम बुल्‍गारिया है। इसे यूरोपीय संघ ( European Union )का हिस्सा माना जाता है। ये मार्केट बुल्‍गारिया में बचकोवो मोनेस्‍ट्री के नजदीक लगती है।

बता दें बेटियों को बेचने की यह प्रथा वहां के रोमा समुदाय में प्रचलित है। जानकारी के अनुसार- इस समुदाय का संबंध भारत ( india )से भी है। दरअसल, ऑर्थोडॉक्‍स क्रिस्चियन का एक समुदाय कलायदजी है जो रोमा समुदाय में आता है। इस समुदाय के लोग इतने गरीब हैं और बेहद मुश्किल से अपना गुजर-बजर करते हैं। ऐसी स्थिति में रोमा समुदाय के लोगों की सोच नहीं बदल पाई है। यही कारण है कि इस समुदाय के लोग सदियों से इस परंपरा को निभा रहे हैं।

एक रिपोर्ट केअनुसार- इस समुदाय में शिक्षा की भी कमी है। समुदाय की लड़कियां कॉलेज तक नहीं पहुंचतीं। छोटी उम्र में ही उन्हें ब्याहने के लिए बेच दिया जाता है।

साल में चार बार लगता है बाजार

बुल्‍गारिया में ब्राइडल बाजार साल में चार बार लगता है। जिसमें लड़कियां अपनी मर्जी से अपने रिश्तेदारों या फिर मां-बाप के साथ सज-धजकर आती हैं। लड़कियां अपनी पसंद के लड़के से बातचीत कर खुद शादी के लिए उन्हें चुनती हैं।

(साई फीचर्स)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *