देश के 23 राज्यों में कांग्रेस का हुआ सूपड़ा साफ!

 

 

 

 

आधा देश बढ़ रहा कांग्रेस मुक्त भारत की ओर!

(ब्यूरो कार्यालय)

नई दिल्ली (साई)। लोकसभा चुनाव के नतीजों कांग्रेस के लिए बेहद निराशाजनक रहे हैं। बीते आम चुनाव में महज 44 सीटों पर सिमटने वाली पार्टी इन पंक्तियों के लिखे जाने तक इस बार महज 50 सीटों पर ही आगे चल रही है।

कांग्रेस के लिए यह परिणाम इसलिए भी चिंताजनक है क्योंकि वह अपनी सत्ता वाले कर्नाटक, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बुरी तरह परास्त हुई है। इसके अलावा यूपी में प्रियंका गांधी को पूर्वी यूपी और ज्योतिरादित्य को वेस्ट यूपी की कमान सौंपे जाने का फॉर्म्युला भी धराशायी हुआ है। यहां तक कि कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में स्थिति कांग्रेस मुक्त जैसी हो गई है। आइए जानते हैं कौन से राज्य हुए कांग्रेस मुक्त…

जम्मू-कश्मीर : देश के सबसे उत्तरी राज्य में कांग्रेस को बुरी तरह शिकस्त झेलनी पड़ी है। यहां की कुल 6 सीटों में से 3 पर बीजेपी आगे है, जबकि 3 सीटें नैशनल कॉन्फ्रेंस के खाते में जाती दिख रही हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस को किसी भी सीट पर जीत नहीं मिली है, जबकि पीडीपी भी बुरी तरह परास्त हुई है। यहां तक पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती भी अपनी अनंतनाग सीट पर हार की कगार पर हैं।

अंडमान निकोबार : केंद्र शासित प्रदेश अंडमान निकोबार की एकमात्र सीट पर बीजेपी आगे चल रही है।

आंध्र प्रदेश : दक्षिण भारत के अहम राज्य आंध्र प्रदेश से 25 लोकसभा सीट आती हैं। यहां 24 सीटों पर वाईएसआर कांग्रेस को आगे चल रही है, जबकि 1 सीट टीडीपी के खाते में गई है। इस तरह यह राज्य भी कांग्रेस मुक्त हुई है।

अरुणाचल प्रदेश : चीन से सटे इस पूर्वाेत्तर राज्य की दोनों सीटों पर बीजेपी जीत के करीब है।

बिहार में सिर्फ 1 सीट : सूबे की 16 सीटों पर बीजेपी को बढ़त है, जबकि उसकी सहयोगी जेडीयू भी 16 सीटों पर ही आगे है। रामविलास पासवान की पार्टी एलजेपी को यहां 6 सीटें मिलती दिख रही हैं। वहीं कांग्रेस को महज एक सीट पर बढ़त है और उसकी सहयोगी आरजेडी भी सिर्फ एक सीट पर ही आगे है। यह स्थिति एक तरह से सूबे के कांग्रेस मुक्त होने सरीखी ही है।

चंडीगढ़ : केंद्र शासित प्रदेश की एकमात्र सीट पर बीजेपी की किरण खेर कांग्रेस के पवन कुमार बंसल से आगे चल रही हैं।

दादर ऐंड नागर हवेली : दादर ऐंड नागर हवेली की एक सीट पर भी बीजेपी को जीत मिली है।

दमन दीव : दमन दीव की एकमात्र सीट भी बीजेपी के ही खाते में गई है।

गुजरात में बीजेपी का क्लीन स्वीप : पीएम नरेंद्र मोदी के गृह राज्य में बीजेपी ने एक बार फिर से क्लीन स्वीप करते हुए सभी 26 सीटों पर विजय हासिल की है। 2014 में भी बीजेपी ने इस राज्यों में सभी सीटों पर परचम लहराया था।

हरियाणा में सूपड़ा साफ : उत्तर भारत के इस राज्य में बीजेपी की सत्ता है और लोकसभा चुनाव में उसने एक बार फिर से कांग्रेस को बुरी तरह पस्त करते हुए सभी 10 सीटों पर जीत दर्ज की है।

हिमाचल में क्लीन स्वीप : हिमाचल प्रदेश की चारों सीटों पर बीजेपी ने फतह हासिल की है। 2014 में भी कांग्रेस को यहां एक भी सीट नहीं मिली थी।

उत्तराखंड में कांग्रेस साफ : यही नहीं उत्तर भारत के दूसरे पहाड़ी राज्य उत्तराखंड में भी बीजेपी पांचों सीटों पर आगे है।

मध्य प्रदेश में सिर्फ 1 पर कांग्रेस आगे : मध्य भारत के अहम राज्य में कांग्रेस ने इसी साल दिसंबर में विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की थी, लेकिन वह लोकसभा चुनाव में अपने प्रदर्शन को दोहरा नहीं सकी। मध्य प्रदेश की 29 सीचों पर बीजेपी विजय की ओर है, जबकि सिर्फ 1 सीट कांग्रेस के खाते में जाती दिख रही है। यह सीट कमलनाथ का गढ़ रही छिंदवाड़ा है, जहां से उनके बेटे नकुलनाथ समर में हैं।

महाराष्ट्र में महज 1 पर कांग्रेस : महाराष्ट्र की 48 सीटों में से कांग्रेस को सिर्फ एक सीट मिलती दिख रही है। यहां बीजेपी 23 सीटों पर आगे है, जबकि उसकी सहयोगी शिवसेना को 18 सीटों पर बढ़त है। कांग्रेस की गठबंधन सहयोगी एनसीपी को महज 3 सीटों पर बढ़त है।

मणिपुर भी कांग्रेस मुक्त : कांग्रेस पार्टी कभी एक दौर में पूरे देश की पार्टी कही जाती थी, लेकिन इस बार उसे बुरी तरह शिकस्त झेलनी पड़ी है। मणिपुर की महज 2 सीटों में से 1 पर बीजेपी और 1 पर नगा पीपल्स फ्रंट को जीत मिलती दिख रही है।

मिजोरम : सूबे की एकमात्र सीट पर मिजो नैशनल फ्रंट को जीत मिलती दिख रही है।

ओडिशा में कांग्रेस का सूपड़ा साफ : पूर्वी भारत में शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी ने 7 सीटों पर बढ़त कायम की है, जबकि 14 सीटों पर सूबे की सत्ताधारी पार्टी बीजेडी आगे है। कभी इस सूबे में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस को एक भी सीट पर जीत नहीं मिली है।

दिल्ली से कांग्रेस और आप दोनों साफ : राजधानी दिल्ली में कांग्रेस और आप दोनों का सूपड़ा होता दिख रहा है, जबकि बीजेपी को सातों सीटें मिलने की संभावना है। बीजेपी इन सभी सीटों पर बड़े अंतर से आगे चल रही है।

राजस्थान में बीजेपी ने दोहराया 2014 : राजस्थान की सभी सीटों पर बीजेपी कांग्रेस का सूपड़ा साफ करती दिख रही है। यहां तक कि जोधपुर सीट से कांग्रेस कैंडिडेट और सूबे के सीएम के बेटे वैभव गहलोत पीछे चल रहे हैं। बीजेपी 24 सीटों और आगे है, जबकि उसकी सहयोगी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी 1 सीट पर आगे है।

सिक्किम : पूर्वाेत्तर राज्य सिक्किम की एकमात्र सीट से सिक्किम क्रांतिकारी मोर्च आगे चल रहा है।

त्रिपुरा : राज्य की दोनों लोकसभा सीटों पर बीजेपी आगे चल रही है।

यूपी में सिर्फ सोनिया का गढ़ बचा : देश की सबसे ज्यादा 80 लोकसभा सीटों वाले राज्य यूपी में भी कांग्रेस का एक तरह से सूपड़ा साफ होता दिख रहा है। यहां महज 1 सीट रायबरेली में कांग्रेस आगे है, जो गांधी-नेहरू परिवार की परंपरागत सीट मानी जाती है। सूबे की 59 सीटों पर बीजेपी, 6 सीटों पर एसपी और 12 सीटों पर बीएसपी आगे चल रही है।

बंगाल में महज 1 सीट पर कांग्रेस : पश्चिम बंगाल की 42 सीटों मे।से 19 पर बीजेपी को बढ़त है और 22 सीटों पर तृणमूल कांग्रेस आगे चल रही है। कांग्रेस महज 1 सीट पर ही आगे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *