अशोक वार्ड में पसरीं अव्यवस्थाएं : गुड्डू खान

 

 

बजबजाती नालियां और आवारा कुत्ते बने आतंक का पर्याय

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। नगर के 24 वार्डाें में यूँ तो कुछ न कुछ मूलभूत सुविधाओं का अभाव बना ही रहता है पर इन दिनों नगर के ह्दय स्थल पर स्थित अशोक वार्ड मूलभूत सुविधाओं के अभाव में बजबजा नहीं बल्कि तड़फा सा जा रहा है। चारों ओर गंदगी का अंबार लगा हुआ है पर पालिका के अधिकारी और उनकी शह पर कर्मचारियों के द्वारा इस समूचे वार्ड की घोर उपेक्षा किये जाने के के कारण, उसका दंश भोगने को मजबूर हो रहे हैं।

उक्त संबंध में जारी प्रेस विज्ञप्ति में सामाजिक कार्यकर्त्ता गुड्डू भाई एवं अनेक नागरिकों ने बताया है कि नगर पालिका परिषद सिवनी की घोर उपेक्षा के चलते वार्ड की नालियां कचरों से पट गयी है जहाँ से दूषित जल की निकासी न होने के कारण समूचा क्षेत्र गंदगी और बदबू से बजबजाता पड़ा हुआ है।

उन्होंने आरोप लगाया कि पालिका के कर्मचारी इस वार्ड की ओर रूख ही नहीं कर रहे है। इस संबंध में वार्ड पार्षद शीरी अफरोज से संपर्क करने पर उन्होंने बताया कि वार्ड वासियों की समस्या से जब उनके द्वारा मुख्य नगर पालिका अधिकारी से संपर्क साधने का प्रयास किया जाता है तो वे न तो पालिका कार्यालय में मिलते हैं और न ही राजस्व में, यहाँ तक की उनका फोन तक नहीं कनेक्ट हो पाता है।

गुड्डू खान और उनके साथियों ने आगे बताया कि सफाई की समस्या तो है ही, इस क्षेत्र में आवारा कुत्तों का भी आतंक बना हुआ है। मुस्लिम बाहुल्य इस इलाके में छोटे – छोटे नौनिहाल जब पवित्र रमज़़ान के माह में अल सुबह नमाज़ को जाते हैं तो ये आवारा कुत्ते उन पर झपटकर घायल करने से भी नहीं चूक रहे हैं।

उन्होंने आगे बताया गया कि है कि इस मोहल्ला या वार्ड में नगर की सबसे बड़ी पानी की टंकी स्थित होने के बावजूद वार्ड वासियों को मात्र से 15 से 20 मिनिट ही जलापूर्ति की जा रही है। विज्ञप्ति के माध्यम से माँग की गयी है कि नगर पालिका अधिकारी और पालिका अध्यक्ष स्वयं मौके का जायजा लेकर अशोक वार्ड वासियों को शीघ्र इस रोजमर्रा की समस्याओं से निजात दिलाने की दिशा में कदम उठायें।

6 thoughts on “अशोक वार्ड में पसरीं अव्यवस्थाएं : गुड्डू खान

  1. Pingback: 로켓툰
  2. Pingback: Functional testing
  3. Pingback: CI/CD
  4. Pingback: DevOps

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *