सेवानिवृति के उपरांत करना है नौकरी तो . . .

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

जबलपुर (साई)। रेलवे के रनिंग स्टॉफ से लेकर दूसरे अन्य रिक्त पदों को भरने के लिए रेलवे अब अपने अनुभवी कर्मचारियों को रिटायरमेंट के बाद भी नौकरी करने का मौका देगा। वो भी दो नहीं बल्कि 5 साल के लिए। यानि 60 से 65 साल तक वे रेलवे की नौकरी कर सकते हैं।

खास बात यह है कि रेलवे ने कर्मचारी को नौकरी के दौरान ही रिटायरमेंट के बाद नौकरी करने के लिए आवेदन करने की अनुमति दी है। 30 नवम्बर 2019 तक रिटायर होने वाले कर्मचारी आवेदन कर सकते हैं। दरअसल स्टेशन और ट्रेन संचालन में कर्मचारियों की कमी ज्यादा है, जिसमें अनुभवी लोगों की जरूरत है।

रेलवे ने इसलिए लिया यह निर्णय : दरअसल रेलवे में रनिंग स्टॉफ की कमी है। हर माह कर्मचारी रिटायर्ड हो रहे हैं, उसकी तुलना में भर्ती होने वाली कर्मचारियों की संख्या कम है। नए कर्मचारियों को ट्रेनिंग देने में कई माह लग जाते हैं। इससे रेलवे ने अपने अनुभवी कर्मचारियों से रिटायरमेंट के बाद नौकरी करने का प्रस्ताव दिया है। इस दौरान उन्हें रिटायर होने वाले माह में मिलने वाले वेतन का आधा वेतन रिटायरमेंट के दौरान कार्य करने पर मिलेगा।

नई नियुक्ति होते ही करेंगे बाहर : रेलवे की इस योजना से जुड़ने के लिए रिटायर कर्मचारियों ने आवेदन करने के बाद कुछ कर्मचारियों ने जॉइन भी कर लिया है। हालांकि नियम में यह भी स्पष्ट है कि जिस पद पर वे कम करेंगे, यदि वह नई भर्ती से भर जाता है तो उसके बाद उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया जाएगा। इस वजह से कई कर्मचारी आवेदन करने से पीछे भी हट रहे हैं।