पंचतत्व में विलीन हुए राजेश

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। आज़ादी के उपरांत सिवनी के ख्यातिलब्ध पत्रकारों में शामिल रहे स्व.आर.के. विश्वकर्मा के ज्येष्ठ पुत्र राजेश विश्वकर्मा सोमवार 03 जून को पंचतत्व में विलीन हो गये। उन्हें बड़ी तादाद में लोगों ने अंतिम बिदाई दी।

लगभग 50 वर्षीय राजेश विश्वकर्मा अल्पायु में ही ब्रह्मलीन हो गये। वे पिछले कुछ समय से अस्वस्थ्य चल रहे थे। जिला अस्पताल में उनका उपचार किया जा रहा था। रविवार 02 जून की शाम लगभग सवा छः बजे उन्होंने अंतिम साँस ली। वे अपने पीछे पत्नि, भाई मुकेश विश्वकर्मा, एक पुत्र एवं एक पुत्री का भरा पूरा परिवार छोड़ गये हैं।

उनके निधन का समाचार जैसे ही लोगों को मिला उनके परिचितों में शोक की लहर दौड़ गयी। सोमवार की सुबह मठ मंदिर के पास उनके पैतृक आवास से उनकी अंतिम यात्रा कटंगी नाका स्थित मोक्षधाम के लिये रवाना हुई, जिसमें बड़ी तादाद में लोगों ने शामिल होकर उन्हें अंतिम बिदाई दी।

समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया और दैनिक हिन्द गजट परिवार इस दुःख की घड़ी में परिजनों को गहन दुःख सहने की क्षमता ईश्वर से प्रदान कर दिवंगत आत्मा की चिरशांति की कामना ईश्वर से करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *