आज केरल में दस्तक दे सकता है मानसून

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

नई दिल्ली (साई)। केरल में दक्षिण पश्चिम मॉनसून के शनिवार को दस्तक देने की संभावना है।

ज्ञातव्य है कि पूर्व में मॉनसून 05 दिन की देरी से अर्थात 06 जून को आने की संभावना जताई गई थी जिसमें अब दो दिन कि और देरी हो गई है। उल्लेखनीय है कि मॉनसून पहले केरल के तट से टकराता है और उसके बाद भारत के अन्य हिस्सों में मॉनसून का आगमन होता है। इसके बाद अगले 45 दिनों तक देश भर में मॉनसूनी बारिश होती है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि केरल में शनिवार को मॉनसूनी बारिश हो सकती है। इसके दो दिन बाद पूर्वाेत्तर भारत से मॉनसून टकराएगा। मॉनसून में देरी से कृषि क्षेत्र के प्रभावित होने की संभावना है जो कि पहले ही सूखे से बदहाल है। भारतीय मौसम विभाग के प्रमुख डी,सिवानंद पई ने कहा कि दक्षिण से लेकर उत्तर भारत में मॉनसून पांच-सात दिनों की देरी से आएगा। मॉनसून की प्रगति के बारे में अनुमान लगाना अभी जल्दबाजी होगी। हालांकि, देशभर में जून में बारिश सामान्य से कम होगी।

वहीं, निजि मौसम विभाग केंद्र स्काइमेट ने भी पहले 04 जून को मॉनसून के आगमन की संभावना जताई थी। हालांकि, फिर इसने इसकी तारीख बढ़ाकर 07 जून कर दी।

मॉनसून में हो रही देरी के कारण कुछ जगहों पर लोगों ने प्रकृति को प्रसन्न करने के लिए पूजा-पाठ शुरू कर दिया था। ऐसी ही एक अनोखी तस्वीर बेंगलुरु से सामने आई थी जहां एक मंदिर में पानी से भरे बड़े आकार के बर्तन में बैठकर पुजारी पूजा कर रहे थे।

राष्ट्रीय राजधानी में देरी से मॉनसून : मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली में मॉनसून दो-तीन दिन की देरी से दस्तक देगा। हालांकि शहर में बारिश के सामान्य रहने का अनुमान है। हालांकि, स्काईमेट के मौसम विज्ञानियों का कहना है कि दिल्ली में मॉनसून का आगमन कम से कम एक सप्ताह की देरी से होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *