दस्तक अभियान आज से

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। प्रदेश में सोमवार 10 जून से 20 जुलाई तक लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और महिला – बाल विकास विभाग द्वारा दस्तक अभियान संचालित किया जायेगा।

दस्तक अभियान में आँगनबाड़ी, एएनएम और आशा कार्यकर्त्ता घर-घर जाकर 05 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में प्रमुख बाल्य कालीन बीमारियों की सामुदायिक स्तर पर सक्रिय पहचान कर उनका त्वरित प्रबंधन करेंगे, जिससे बाल मृत्यु दर में प्रभावी कमी लायी जा सकेगी।

स्वास्थ्य आयुक्त नीतेश व्यास के अनुसार अभियान में मुख्य तौर पर समुदाय में बीमार बच्चों और नवजातों की पहचान, प्रबंधन एवं रेफरल, शैशव एवं बाल्य कालीन निमोनिया की पहचान, प्रबंधन, कुपोषित बच्चों को पहचानना तथा उपचार के लिये एनआरसी भेजना, बाल्य कालीन दस्त रोग नियंत्रण के लिये ओआरएस एवं जिंक के उपयोग के संबंध में जागरूकता, विटामिन-ए का अनुपूरण, 09 माह से 05 वर्ष तक के बच्चों में दिखायी देने वाली जन्मजात विकृतियां, शिशु एवं बाल आहार पूर्ति संबंधी समझाईश देने आदि की गतिविधियां दस्तक दल गाँव – गाँव में घर-घर जाकर करेगा।

इस बार दस्तक अभियान में पुरूषों की सक्रिय भागीदारी के लिये ग्राम स्तर पर स्वस्थ ग्राम सभा का आयोजन किया जायेगा। सभा में पंचायत एवं ग्रामीण विकास, महिला बाल विकास, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, के अमले द्वारा किशोरी बालिकाओं में संतुलित आहार, माहवारी स्वच्छता, प्रसव पहल एवं प्रसव के बाद जाँच, जन्म के बाद शिशु द्वारा एक घण्टे के भीतर स्तनपान तथा 06 माह तक केवल स्तनपान, 06 माह बाद अनुपूरक आहार एवं स्वच्छता संबंधी आदतों के बारे में विस्तार से समझाया जायेगा। इसके साथ संचारी तथा असंचारी रोगों पर भी चर्चा की जायेगी। अभियान में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले जिले, ग्राम पंचायत तथा विकासखण्ड को पुरूस्कृत किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *