हाईस्पीड ट्रेन से भी तेज गति से बढ़ रहा है मानसून

 

 

 

 

 

मुम्बई में झमाझम, दो दिन में ठण्डी हवाओं की हो सकती है प्रदेश में आमद

(ब्यूरो कार्यालय)

नई दिल्ली (साई)। मानसून केरल के तट पर भले ही 8 दिन देरी से आया हो परंतु हाईस्पीड ट्रेन की तरह अब शायद मानसून भी टाइम मिलाने की कोशिश कर रहा है। वो सामान्य से काफी तेज रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। रविवार को मुंबई समेत महाराष्ट्र के कई शहरों में झमाझम बारिश हुई। उम्मीद है अगले 48 घंटे में मध्य भारत तक ठंडी हवाएं पहुंच जाएंगी।

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण-पश्चिमी मानसून एक हफ्ते की देरी से आने के बावजूद अगले 48 घंटे में अर्थात बुधवार तक पूर्वाेत्तर राज्यों में भी अपना असर दिखा सकता है। इन राज्यों में भी मानसून के बेहतरीन हालात बन गए हैं। हालांकि, मौसम विभाग का कहना है कि ओडिशा में मानसून पहुंचने में देरी हो सकती है।

रविवार को मुंबई महाराष्ट्र के कुछ शहरों में हुई झमाझम बारिश ने लोगों को भिगो दिया। प्री-मानसून बारिश की वजह से लोगों को तपन से राहत मिली है वहीं मौसम विभाग का अनुमान है कि राज्य में अगले कुछ दिनों में मानसून भी दस्तक दे सकता है।

सरकारी मौसम विभाग का कहना है कि दक्षिण पूर्वी और पूर्वी मध्य अरब सागर के अलावा लक्षद्वीप में चक्रवाती तूफान आने के हालात बन रहे हैं। इन इलाकों में हवा का निम्न दबाव है। यह दबाव आगे उत्तर और उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा। अगले 48 घंटे में यह दबाव और बढ़ सकता है। इसके चलते मुंबई की अधिकांश जगहों में 11 और 12 जून के आसपास हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद है।

वहीं दूसरी तरफ मानसून मंगलवार तक समूची बंगाल की खाड़ी को भी घेर लेगा। इसलिए मछुआरों को समुद्र में जाने से रोका गया है, चूंकि वहां 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। हालांकि केरल में मछुआरों को 52 दिनों के लिए समुद्र में 12 नाटिकल माइल से दूर जाने से रोका गया है। ताकि मछलियों के ब्रीडिंग सीजन में उन्हें कोई नुकसान न हो। इस आदेश को नहीं मानने वालों को 2.5 लाख रुपये का जुर्माना भरना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *