किसानों के लिये आंदोलन, किसान रहे गायब!

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। पेंच नहर, मेडिकल कॉलेज, लालमाटी क्षेत्र की नहर निर्माण की स्वीकृति में रोक लगाने के आरोप लगाते हुए सोमवार को कचहरी चौक में भाजपा ने धरना आंदोलन किया।

प्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ और काँग्रेस सरकार को किसान विरोधी बताकर भाजपा द्वारा आयोजित किये गये इस आंदोलन से किसानों ने दूरी बनायी रखी। भाजपा कार्यकर्त्ता व पदाधिकारियों के अलावा धरना – आंदोलन में किसानों की मौजूदगी नज़र नही आयी। यहाँ तक की धरना आंदोलन में भाजपाईयों की संख्या से ज्यादा सुरक्षा के लिये तैनात जिले का पुलिस बल नज़र आ रहा था।

धरना आंदोलन में कचहरी चौक पर सिवनी विधायक दिनेश राय, प्रदेश उपाध्यक्ष विनोद गोटिया, पूर्व विधायक नरेश दिवाकर सहित 40 से 50 भाजपाई ही मौजूद थे। भाजपाईयों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ और काँग्रेस सरकार पर किसानों के साथ वायदा खिलाफी कर जिले के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए जमकर प्रहार किया। सभी भाजपा कार्यकर्त्ताओं ने आरोप लगाया कि जिले के विकास में अड़ंगा डालते हुए पेंच नहर का निर्माण कार्य बंद करवा दिया गया है। जिले में मेडिकल कॉलेज की शुरूआत हुई थी जिसे भी कमल नाथ ने बंद करवा दिया है।

कर्जमाफी के नाम पर किसानों से धोखा : भाजपा पदाधिकारियों ने काँग्रेस सरकार की कर्ज माफी को लेकर कहा कि काँग्रेस सरकार किसानों के साथ धोखा कर रही है। सरकार द्वारा कर्जमाफी करना तो दूर, बोवनी के इस सीजन में खाद – बीज तक की मारामारी चल रही है। किसानों को खाद नसीब नहीं हो रही है।

लगता रहा जाम : कचहरी चौक में भाजपा के धरना प्रदर्शन के कारण मुख्य सड़क पर बार – बार जाम लगने से राहगीरों को परेशान होना पड़ा। कचहरी चौक से नागपुर, जबलपुर, मण्डला और बालाघाट जाने के मार्ग होने के कारण यहाँ हर समय ट्राफिक ज्यादा रहता है। इतना ही नहीं कलेक्ट्रेट, कोर्ट, अस्पताल और अन्य सरकारी दफ्तर कचहरी चौक के आसपास ही मौजूद हैं। इसके कारण भी यहाँ ट्रैफिक ज्यादा रहता है। वहीं भाजपा के आंदोलन के कारण कई बार मार्ग में जाम की स्थिति बनी। मौके पर बड़ी संख्या में मौजूद पुलिस बल ने जाम की स्थिति को कंट्रोल किया। ज्यादा देर तक राहगीरों को जाम में फंसकर परेशान नहीं होना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *