चार माह से लापता मूकबधिर!

 

 

रो-रोकर पत्नि का बुरा हाल, कुरई पुलिस बार-बार भगा रही थाने से!

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (साई)। एस.पी. साहब मेरा पति पिछले चार महीने से लापता है, मेरे द्वारा कुरई थाने में बार – बार रिपोर्ट दर्ज कराये जाने का प्रयास किये जाने पर वहाँ मौजूद अधिकारी एवं कर्मचारी द्वारा मुझे और मेरे ससुर को गाली देकर भगा दिया जाता है और अभद्रता करते हुए कहा जाता है कि जहाँ गुमा है वहीं रिपोर्ट लिखवाओ।

ये फरियाद है कुरई थाने अंतर्गत दमझिर रजोला की रहने वाली दुर्गा चौधरी की, जो उन्हांेने पुलिस अधीक्षक एवं जिला कलेक्टर से की है। दुर्गा चौधरी ने बताया कि उनका पति भोजसिंह चौधरी (32) दिव्यांग मूकबधिर है। 09 मार्च को रजोला के रहने वाले अनिल और सुनील पिता गंगाराम पटले उन्हें यह कहकर तमिलनाडू के काजीपेठ ले गये कि वहाँ रोजगार दिलायेंगे।

पीड़िता ने बताया कि तीन – चार दिन बाद ही उन्हांेने (अनिल व सुनील ने) बताया कि उनका मूकबधिर पति गुम गया है। इसके बाद श्रीमति दुर्गा और उनके ससुर एक बार नहीं अनेक बार कुरई थाने गये पर बजाय रिपोर्ट लिखने के उनके साथ अभद्रता कर हर बार भगा दिया गया। हताश होकर श्रीमति दुर्गा ने 12 अपै्रल को जिला पुलिस अधीक्षक को आवेदन दिया।

इसके उपरांत दुर्गा के बयान तो कुरई पुलिस ने दर्ज कर लिये पर आगे की कार्यवाही नही नजर आई जिसके चलते आज दिनांक तक उसके पति का कोई सुराग नही मिल पाया है जबकि अनिल-सुनील पटले वापस गांव में घूम रहे है उनसे कोई पूछताछ नही की गयी।

दुर्गा चौधरी ने आशंका व्यक्त की है कि उनके मूकबधिर पति भोजसिंह को या तो कहीं भेज दिया गया है और या फिर उन्हें मार दिया गया है। पुलिस अधीक्षक के बाद जिला कलेक्टर को भी आवेदन श्रीमति दुर्गा के द्वारा दे दिया गया है एवं कहा गया है कि कुरई पुलिस का पीड़ित परिवार के साथ यह व्यवहार कहाँ तक न्याय संगत है कि बजाय रिपोर्ट लिखने के पीड़िता को थाने से फटकार कर भगा दिया जाता है।

नवागत पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक से अपेक्षा व्यक्त की जा रही है कि वे इस मामले में संज्ञान लेकर एक मूकबधिर की पत्नि को उसके पति की पतासाजी कराने कुरई पुलिस को निर्देशित करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *