नवागत सीएमओ ने गिनायीं प्राथमिकताएं

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। लंबे समय से प्रभारियों के भरोसे चल रही नगर पालिका परिषद को पूर्णकालिक मुख्य नगर पालिका अधिकारी मिल गया है। होशंगाबाद में सिवनी मालवा नगर पालिका परिषद से स्थानांतरित होकर आये सीएमओ मनोज श्रीवास्तव के द्वारा शुक्रवार 14 जून को पदभार ग्रहण किया गया।

पदभार ग्रहण करने के उपरांत सीएमओ मनोज श्रीवास्तव के द्वारा अपनी प्राथमिकताएं गिनायी गयीं। उन्होंने कहा कि शहर में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति करना उनकी पहली प्राथमिकता होगी। जलावर्द्धन योजना की नयी पाईप लाईन से हितग्राहियों को कनेक्शन देकर पानी की आपूर्ति करायी जायेगी।

उन्होंने बताया कि नियमित सफाई और प्रतिदिन निर्धारित समय पर घर-घर से कचरे का कलेक्शन सुनिश्चित किया जायेगा। उन्होंने प्रभारी सीएमओ गजेंद्र पांडेय से नगर पालिका के सीएमओ का प्रभार लिया।

उन्होंने स्पष्ट किया कि स्वच्छता सर्वेक्षण पर बेहतर कार्य किया जायेगा। इसके लिये अध्यक्ष, नगर पालिका पार्षद, कर्मचारियों और अधिकारियों से बैठकर योजना तैयार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि ईडब्ल्यूएस और प्रधानमंत्री आवास योजना के कार्यों का बेहतर क्रियान्वयन होगा। इन कार्यों में यदि कहीं अड़चन आ रही होगी तो बैठकर उसे दूर किया जायेगा। शासन की इस महत्वाकांक्षी योजना से आमजन को सीधा लाभ हो रहा है। लोगों के पक्के मकान में रहने का सपना पूरा हो रहा है।

नवागत सीएमओ ने कहा कि उन्होंने सिवनी मालवा में बतौर सीएमओ शासन की इस योजना में बेहतर कार्य किया है। प्रदेश भर में उक्त नगर पालिका क्षेत्र में कराये गये इस महत्वाकांक्षी योजना की सराहना हो रही है। नगर पालिका की आय के लिये उन्होंने कर वसूली की स्थिति बेहतर करने की बात कही। इसके लिये कर्मचारियों को सख्त निर्देश दिये जाने के साथ ही वार्ड में शिविर लगाये जाने की बात कही।

मनोज श्रीवास्तव ने कहा कि जीआइएस सर्वे के अनुसार कर की वसूली होगी। त्रुटियों की जाँच करायी जायेगी। मानव जीवन व पर्यावरण के लिये घातक सिद्ध हो रही प्रतिबंधित पॉलीथिन पर नियमित कार्यवाही कराये जाने की बात कही। उन्होंने बताया कि पॉलीथिन के मसले पर वे खुद भी दुकानदारों और लोगों से मिलकर जागरूकता अभियान चलायेंगे।

छिंदवाड़ा जिले के चौरई, बालाघाट जिले के वारासिवनी, नरसिंहपुर जिले के करेली, जबलपुर जिले के पनागर निकाय में कार्य कर चुके सीएमओ मनोज श्रीवास्तव वर्ष 1990 में पीएससी से चयनित हुए थे। उन्होंने बतौर सीएमओ छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के धमदा से नौकरी की शुरुआत की। नौकरी में आने के पूर्व वे हाई कोर्ट जबलपुर में प्रेक्टिस भी कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *